ताज़ा खबर
 

IRCTC: टिकट बुकिंग के लिए मिलेंगे 15 मिनट ज्यादा, जानें क्या हुआ बदलाव

ई-टिकेटिंग व्यवस्था में तेजी लाने व इसे मजबूत बनाने के लिए हाल ही में सिंगापुर से पांच नए इटैनियम सर्वर भी मंगाए गए थे। उससे पहले, एक जून को दो लाइनक्स वाले सर्वर इंस्टाल किए गए थे।

IRCTC: टिकट बुकिंग से जुड़ी इस सुविधा का लाभ ‘करेंट काउंटर्स’ पर भी मिलेगा। (फोटोः irctc.in)

इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) ने यात्रियों की सुविधा और सुगमता का ख्याल रखते हुए एक सराहनीय कदम उठाया है। आईआरटीसी ने हाल ही में अपनी वेबसाइट पर टिकट बुकिंग की प्रक्रिया में बदलाव करते हुए यात्रियों को 15 मिनट अधिक मुहैया कराए हैं। यानी अब से ई-टिकेटिंग के समय लोगों को 15 मिनट का अतिरिक्त समय मिलेगा। बता दें कि आईआरटीसी की साइट पर पहले तक रात साढ़े 11 बजे तक टिकट बुकिंग होती थी, मगर इस ताजा बदलाव के बाद 11 बजकर 45 मिनट तक टिकट बुक किए जा सकेंगे।

पुरानी व्यवस्था में आईआरसीटीसी दिन में एक बार अपनी वेबसाइट का मुख्य सर्वर बंद करता था। यह एक घंटे के लिए बंद किया जाता था। सर्वर साढ़े 11 से साढ़े 12 बजे तक बंद रखा जाता था। यानी इस एक घंटे के दौरान आईआरसीटीसी की साइट पर टिकटों की बुकिंग नहीं हो पाती थी। 20 सितंबर से हुए नए बदलाव के आने से आईआरसीटीसी का मुख्य सर्वर सिर्फ 45 मिनट बंद रहेगा। यह समय रात में 11 बजकर 45 मिनट से साढ़े 12 तक होगा। मतलब इस फेरबदल की मदद से यात्रियों को ई-टिकेटिंग की सुविधा के दौरान 15 मिनट का वक्त अतिरिक्त मिलेगा।

ई-टिकेटिंग व्यवस्था में तेजी लाने व इसे मजबूत बनाने के लिए हाल ही में सिंगापुर से पांच नए इटैनियम सर्वर मंगाए गए थे। उससे पहले, एक जून को दो लाइनक्स वाले सर्वर इंस्टाल किए गए थे, ताकि आईआरटीसीटी की वेबसाइट पर टिकटें बुक करने की क्षमता को पहले के मुकाबले बढ़ाया जा सके। आईआरसीटीसी के अध्यक्ष व प्रबंधकीय निदेशक डॉ.एके मनोचा ने मीडिया से बातचीत में कहा था, “इन नए सर्वरों की मदद से वेबसाइट की स्थिति में सुधार आया है, जिसमें लॉग इन टाइम से लेकर पेमेंट गेटवे तक का चरण शामिल है। यही कारण है कि यात्रियों को ई-टिकेटिंग सेवा के लिए 15 मिनट और मिलेंगे।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर एक दिन में तकरीबन साढ़े पांच से छह लाख टिकट बुक हो जाती हैं। इस आंकड़े के साथ भारत का नाम तीन करोड़ पंजीकृत ई-टिकेटिंग उपभोक्ताओं के साथ सबसे व्यस्त सेवा में शुमार है। यही नहीं, रेलवे स्टेशंस पर मौजूद ‘करेंट काउंटर्स’ पर भी यात्रियों को टिकट बुक व रद्द कराने के लिए 15 मिनट अतिरिक्त मिलेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App