ताज़ा खबर
 

IRCTC: रेल टिकट पर 53 कैटेगरीज में ले सकते हैं छूट, जानिए पूरी डिटेल्‍स

Indian Railway, IRCTC Train Ticket Booking Online Rules, and Charges: वरिष्ठ नागरिकों को छोड़कर अन्य श्रेणी के रियायत टिकट खरीदने के लिए यात्री को संबंधित संस्थान या व्यक्ति से मिले प्रमाणपत्र को दिखाना होता है।

irctc, irctc ticket booking, group booking, group travel, group rail reservation, irctc ticket booking online, irctc train ticket booking, irctc train ticket booking online, railway train ticket booking, train ticket booking, train ticket booking online, mobile train ticket booking online, irctc train ticket booking cancellation rules, irctc ticket rules, irctc ticket charges, Bank, Ticket booking Money Refund, Indian Railways concessions ticketभारतीय रेलवे 53 कैटेगरी के टिकट में छूट देती है।

Indian Railway, IRCTC Train Ticket Booking Online Rules, and Charges: भारतीय रेलवे विभिन्न कैटेगरी के तहत लिए गए ट्रेन टिकट पर रियायत देती है। इसमें टिकट की कीमत पर 10 प्रतिशत से लेकर 100 प्रतिशत तक की छूट यात्रियों को मिलती है। किराये में छूट का लाभ वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांग, छात्र, शहीद की विधवा के साथ-साथ कुल 53 कैटेगरीज में मिलता है। भारतीय रेलवे के ऑनलाइन बुकिंग प्लेटफॉर्म आईआरसीटीसी (इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन) के माध्यम से सिर्फ वरिष्ठ नागरिकों के लिए ही किराए में छूट का लाभ उठाया जा सकता है। भारतीय रेलवे की वेबसाइट indianrail.gov.in के अनुसार, अन्य छूट वाले टिकट के लिए यात्रियों को किसी रेलवे रिजर्वेशन ऑफिस स्थित पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (पीआरएस) काउंटर पर जाना होगा।

भारतीय रेलवे के अनुसार, किराए में छूट मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के आधार पर दिया जाता है। उदाहरण के तौर पर यात्री यदि मेल ट्रेन से यात्रा करते हैं, तो उन्हें उस ट्रेन के किराए के हिसाब से छूट मिलेगी। वहीं, एक्सप्रेस या पैसेंजर ट्रेन से यात्रा करने पर उन्हें उस ट्रेन के किराए के हिसाब से छूट मिलेगी। एक बार में एक ही कैटेगरी के लिए यात्रा किराया में छूट मिल सकती है। उदाहरण के तौर पर यदि कोई दिव्यांग छात्र रियायत वाली टिकट लेना चाहते हैं तो या तो वे दिव्यांग कोटे के आधार पर छूट प्राप्त कर सकते हैं या छात्र कोटे के अनुसार। उन्हें एक बार में दोनों कैटेगरी से छूट नहीं मिलेगा।

ट्रेन किराये में छूट रिजर्वेशन या बुकिंग ऑफिस से टिकट खरीदने वक्त ही दिया जाता है। ट्रेन में यात्रा के दौरान किसी तरह की रियायत नहीं दी जाती है। छूट वाले टिकट पर यात्रा कर रहे यात्री उच्च श्रेणी में अपना टिकट नहीं बदलवा सकते हैं। मूल किराये में अंतर को जमा करने के बावजूद ऐसा नहीं हो सकता है। हालांकि, फर्स्ट क्लास (एसी-2 टीयर में नहीं) में छूट प्राप्त करने वाले लोग एसी 2-टीयर स्लीपर के लिए टिकट खरीद सकते हैं। इसके लिए उन्हें फर्स्ट क्लास के छूट वाले किराया और एसी-2 टीयर स्लीपर तथा फर्स्ट क्लास के किराये के अंतर मूल्य का भुगतान करना होगा।

वरिष्ठ नागरिकों को छोड़कर अन्य श्रेणी के रियायत टिकट खरीदने के लिए यात्री को संबंधित संस्थान या व्यक्ति से मिले प्रमाणपत्र को दिखाना होगा। भारतीय रेल में छूट वाले टिकट प्राप्त करने के लिए दूसरे देशों से जारी प्रमाणपत्र को वैध नहीं माना जाएगा। वरिष्ठ नागरिकों के लिए टिकट खरीदते वक्त किसी तरह के उम्र प्रमाणपत्र को दिखाने की जरूरत नहीं होती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: कर्मचारियों को कितना महंगाई भत्‍ता देना है, सरकार ऐसे करती है तय
2 IRCTC: ट्रेन के जरिए ग्रुप में सफर करना है तो टिकट बुक करने का तरीका जान लीजिए, ऑनलाइन यह सुविधा उपलब्ध नहीं है
3 IRCTC Holi Contest 2019: होली पर स्‍पेशल गिफ्ट पाने का मौका, बस करना होगा यह काम
ये पढ़ा क्या...
X