ताज़ा खबर
 

IRCTC का शानदार हनीमून पैकेज, इतने पैसों में करा रहा केरल की सैर, जानें डिटेल्स

IRCTC's Kerala Honeymoon Package Offer Full Details in Hindi: वैसे भी केरल लंबे समय से जाना-माना पर्यटन स्थल है। खासकर नवविवाहित जोड़ों में वहां की प्रकृति और सौंदर्य को देखने की बड़ी तमन्ना होती है। शायद यही बात ध्यान में रखकर आईआरसीटीसी ने उनके लिए यह ऑफर पेश किया है।

Author नई दिल्ली | July 20, 2019 6:53 PM
केरल में मुन्नार इलाका अपने शांत माहौल और प्राकृतिक सुंदरता की वजह से पर्यटकों के बीच लंबे समय से आकर्षण का केंद्र रहा है। (फोटोः Kerala Tourism/टि्वटर)

IRCTC’s Kerala Honeymoon Package Offer Full Details in Hindi: भारतीय रेल की केटरिंग और टूरिज्म इकाई इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) शानदार हनीमून पैकेज लेकर आया है। छह दिनों वाले इस टूर पैक में वह कोचिन, मुन्नार, अल्लेपी सरीखे लोकेशंस के दीदार कराएगा, जो कि खासतौर पर इसके शांत और निर्मल बैकवॉटर्स के लिए जाने जाते हैं।

वैसे भी केरल लंबे समय से जाना-माना पर्यटन स्थल है। खासकर नवविवाहित जोड़ों में वहां की प्रकृति और सौंदर्य को देखने की बड़ी तमन्ना होती है। शायद यही बात ध्यान में रखकर आईआरसीटीसी ने उनके लिए यह ऑफर पेश किया है। जानकारी के मुताबिक, इन लोकेशंस पर घुमाने वाली यह ट्रेन हर मंगलवार को चलती है, जबकि अगली ट्रेन 30 जुलाई, 2019 को रवाना होगी। यहां क्लिक करके आप रेलवे से जुड़ी सभी जानकारी ऑफर अपने मोबाइल पर जान सकते हैं।

केरल हनीमून टूर वाली स्पेशल ट्रेन हैदराबाद स्टेशन से बनकर चलती है, जबकि इसका बोर्डिंग और डीबोर्डिंग स्टेशन सिकंदराबाद जंक्शन है। ट्रेन में कपल्स के लिए स्टैंडर्ड टिकट 11,010 रुपए का है, जिसमें नाश्ता शामिल है। आईआरसीटीसी ने इसके अलावा जोड़ों को थर्ड एसी टिकट का विकल्प भी दिया है, जिसका दाम 13,630 रुपए है। अगर आप इस टूर पैक के टिकट बुक करना चाहते हैं, तो इस irctctourism.com पर जाएं। वहां आप पैकेज कोड SHR013 के जरिए भी इस ऑफर को आसानी से तलाश सकते हैं।

ये सब देख सकते हैं:

– मलाबार सूबे के उत्तरी हिस्से में पड़ता है। यह करागोद से पलक्कड तक फैला है और इस पूरे क्षेत्र को मलाबार रीजन के तौर पर जाना जाता है। घूमने-फिरने वालों के लिए यह जरूर देखने वाली जगह है।

– इदक्कल की गुफाएं भी केरल की खूबसूरत और प्राचीन धरोहरों में से एक है। भारी संख्या में वहां पर्यटकों का तांता लगता है। खासकर गुफा में बनीं सात हजार साल पुरानी कलाकृतियों और शिलालेखों के लिए यह आकर्षण का केंद्र रही है।

– वायनाड वन्यजीव अभ्यारण को मुथंगा के नाम से भी जाना जाता है और यह देश के सबसे बड़े बायोस्फेयर में से एक है। बताया जाता है कि यह तमिलनाडु और कर्नाटक के सरहदी इलाकों तक फैला हुआ है। बाघ और अन्य जानवर वहां देखने को खूब मिलते हैं।

– इन सब लोकेशंस के अलावा केरल के द्वीप पर भी घूमा जा सकता है। इनमें व्यपीन और बलघाटी पैलेस शामिल हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App