scorecardresearch

IRCTC Shri Ramayana Yatra: भारत गौरव टूरिज्‍म ट्रेन कराएगी भगवान राम की जीवन यात्रा, टिकट पर मिलेगा ईएमआई ऑप्‍शन; जानें कैसे कराएं बुकिंग

Indian Railways Shri Ramayana Yatra IRCTC Latest Update: आईआरसीटीसी के अनुसार, यात्रा 8,000 किलोमीटर की होगी, जिसमें 18 दिन का समय लगेगा। ट्रेन की शुरूआत दिल्‍ली से 21 जून से शुरू की जाएगी।

Shri Ramayana Yatra, irctc
IRCTC Shri Ramayana Yatra: भारत गौरव ट्रेन से कराएगी भगवान राम का जीवन सफर (फाइल फोटो)

IRCTC Shri Ramayana Yatra: श्रद्धालुओं के लिए भारतीय रेलवे आईआरसीटी ‘भारत गौरव टुरिज्‍म ट्रेन’ की चलाने जा रही है। इसके तहत भगवान राम के जीवन का पूरा सफर यात्रियों को कराया जाएगा। यात्रा के दौरान रामभक्‍त अयोध्या, जनकपुर (नेपाल), सीतामढ़ी, वाराणसी, नासिक और रामेश्वरम आदि जगहों का सफर कर सकेंगे। आईआरसीटीसी के अनुसार, यात्रा 8,000 किलोमीटर की होगी, जिसमें 18 दिन का समय लगेगा। ट्रेन की शुरूआत दिल्‍ली से 21 जून से शुरू की जाएगी।

आईआरसीटीसी के प्रवक्‍ता ने कहा कि पहली भारत गौरव ट्रेन सेवा 21 जून से शुरू होगी। इसमें 600 यात्रियों की क्षमता होगी और 11 एसी थ्री टियर कोच होंगे। ट्रेन का पहला पड़ाव अयोध्या होगा, जहां पर्यटक नंदीग्राम में राम जन्मभूमि मंदिर, हनुमान मंदिर, भारत मंदिर के दर्शन किए जा सकेंगे। अयोध्या के बाद अगला गंतव्य बक्सर होगा जहां पर्यटकों को महर्षि विश्वामित्र का आश्रम और राम रेखा घाट दिखाया जाएगा, यहां यात्री गंगा में पवित्र डुबकी लगा सकते हैं।

इसके बाद ट्रेन जयनगर जनकपुर (नेपाल) के लिए रवाना होगी। रात भर जनकपुर के होटलों में रुकने के बाद उन्हें जनकपुर के राम-जानकी मंदिर ले जाया जाएगा। इसके अलावा, उन्हें सीता के जन्म स्थान सीतामढ़ी ले जाया जाएगा, और फिर वाराणसी के लिए होंगी।

वाराणसी में पर्यटकों को वाराणसी के मंदिरों का भ्रमण कराया जाएगा, यहां सीता संहिता स्थल, प्रयागराज, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट सड़क मार्ग श‍ामिल हैं। वहीं वाराणसी, प्रयागराज और चित्रकूट में भी होटलों में रात्रि विश्राम की व्यवस्था की जाएगी। इसके बाद अगले चरण में ट्रेन यात्रा नासिक से त्रयंबकेश्वर मंदिर और पंचवटी के दर्शन के लिए होगी। नासिक के बाद अगला गंतव्य किष्किंधा, हम्पी का प्राचीन शहर ट्रेन पहुंचेगी, यहां भी होटलों में यात्रियों के ठहरने की व्‍यवस्‍था कराई जाएगी।

इसके बाद यात्रियों को अंजनेयद्री पहाड़ियों और अन्य विरासत और धार्मिक स्थलों के ऊपर हनुमान के जन्म स्थान माने जाने वाले मंदिर का दौरा कराया जाएगा। अब रामेश्वरम ट्रेन यात्रा का अगला गंतव्य होगा, जिसमें रामनाथस्वामी मंदिर और धनुषकोडी का दर्शन कराया जाएगा।

अंतिम स्‍थान भद्राचलम
इसके अलावा, यात्रियों को कांचीपुरम ले जाया जाएगा, जहां शिव कांची, विष्णु कांची और कामाक्षी मंदिर दर्शन कराया जाएगा। इसके बाद ट्रेन का अंतिम गंतव्य तेलंगाना में भद्राचलम है, जिसे व्यापक रूप से दक्षिण की अयोध्या के रूप में भी जाना जाता है। इसके बाद, ट्रेन लगभग 8,000 किमी की दूरी तय करते हुए अपनी यात्रा के 18वें दिन दिल्ली लौटेगी।

ट्रेन में क्‍या होगी सुविधा
ट्रेन में सामान रखने के लिए दो अतिरिक्त डिब्बे और ताजे पके शाकाहारी भोजन के लिए एक पेंट्री कार होगी। ट्रेन में पर्यटकों के लिए प्रत्येक कोच में एक इंफोटेनमेंट सिस्टम, सीसीटीवी कैमरे और सुरक्षा गार्ड होंगे।

कितनी होगी टिकट की कीमत, मिलेगा ईएमआई ऑप्‍शन
इस ट्रेन के टिकट की कीमत की बात करें तो इसमें प्रति व्यक्ति 62,370 रुपये होगी, जिसमें 3 एसी टियर चार्ज, होटलों में रात्रि प्रवास, भोजन, बसों से दर्शन स्‍थल तक का सफर, यात्रा बीमा और गाइड की सेवाएं आदि शामिल हैं। हालाकि आईआरसीटीसी ने टिकट के लिए ईएमआई विकल्‍प भी दिया है, जो इस पैकेज को खास बनाता है। बात दें कि ईएमआई विकल्प के लिए आईआरसीटीसी ने पेटीएम और रेजरपे पेमेंट गेटवे के साथ करार किया है। वहीं बुकिंग कराने के लिए आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जा स‍कते हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट