ताज़ा खबर
 

Indian Railways: खाने-पीने के सामान के लिए रेल सफर या स्टेशन पर मांगे जाएं अधिक रुपए, तब ऐसे कर सकते हैं शिकायत

Indian Railways: पानी हो या चाय हर चीज के ज्यादा पैसे वसूले जाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि रेलवे हमें ओवरचार्जिंग करने वालों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने की सुविधा देता है।

Author नई दिल्ली | August 14, 2019 8:57 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

Indian Railways: रेल में सफर के दौरान हम जब खाने-पीने की चीजें मंगाते हैं तो हमसे अधिक पैसा वसूला जाता है या यूं कहे कि हमारी मजबूरी का फायदा उठाया जाता है। 10 रुपए की चीज को 20 तो 20 रुपए की चीज को 30 रुपए के दाम में बेचा जाता है। आस-पास ज्यादा विकल्प न होने पर यात्रियों को मजबूर होकर चीजें अधिक दाम में खरीदनी पड़ती है। गर्मियों में सफर के दौरान रेलवे स्टेशनों पर पानी बेचने वाले प्यासे यात्रियों की मजबूरी का फायदा उठाकर उनसे ज्यादा पैसे वसूलते हैं।

अक्सर देखा जाता है कि ट्रेनों मिलने वाला रोटी या पराठा अधिकतर बार कच्चा होता है। रेलवे जितना पैसे वसूलता है उस हिसाब से ट्रेन में मिलने वाले खाने की क्वालिटी नहीं होती है। पानी हो या चाय हर चीज के ज्यादा पैसे वसूले जाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि रेलवे हमें ओवरचार्जिंग करने वालों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने की सुविधा देता है।

अगर अगली बार आपसे तय दाम से अधिक पैसे वसूले जाए तो आपके पास शिकायत दर्ज करने के कई विक्लप मौजूद होंगे। रेलवे के कंप्लेंट मैनेजमेंट सिस्टम (सीएमएस) के जरिए आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। इसमें आपको फाइल ए कंप्लेंट ऑप्शन पर क्लिक कर अपनी शिकायत दर्ज करनी होगी। इसके बाद आपको एक कंप्लेंट नंबर दे दिया जाएगा और आप इसके जरिए किसी भी वक्त अपनी कंप्लेंट के बारे में जान सकेंगे।

इसके अलावा रेलवे के टोल फ्री नंबर 1800111139 पर भी यात्री फोन कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। कई बार ऐसा होता है कि अगर यात्री शिकायत करने के लिए शिकायत पुस्तिका मांगते हैं तो रेलवे स्टाफ नकार देता है। ऐसे में इस नंबर के जरिए आप ट्रेन में सफर के दौरान तुरंत शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। इसके अलावा यात्री एसएमएस के जरिए भी अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। इसके लिए 9711111139 नंबर का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस नंबर पर रेलवे को किसी भी तरह का सुझाव भी दे सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App