ताज़ा खबर
 

Indian Railways, IRCTC: 31 दिसंबर तक चलेंगी ये 13 स्पेशल ट्रेनें, रेलवे का अहम फैसला

Indian Railways, IRCTC: फेस्टिव सीजन के दौरान रेलवे द्वारा चलाई गईं स्पेशल ट्रेनों में से ज्यादातर ट्रेन 30 नवंबर को बंद हो जाएंगी। इन ट्रेनों के बंद होने से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

IRCTC NEWS india newsतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (पीटीआई)

Indian Railways, IRCTC: पूर्व मध्य रेलवे ने बिहार में संचालित 13 स्पेशल ट्रेनों को अब 31 दिसंबर तक चलाने के लिए मंजूरी दी है। रेलवे ने जयनगर, दरभंगा, बरौनी, रक्सौल, मुजफ्फरपुर और सहरसा से चलने वाली ट्रेनों के परिचालन का विस्तार कर यात्रियों को बड़ी राहत दी है।

समस्तीपुर रेलमंडल के डीआरएम अशोक माहेश्वरी ने रेलवे की इस फैसले की पुष्टि की है। उन्होंने यह भी बताया कि यात्रियों को इन ट्रेनों में सफर करने के लिए रिजर्वेशन काउंटर से आरक्षित टिकट लेना होगा

फेस्टिव सीजन के दौरान इन रूट्स पर स्पेशल ट्रेनों के संचालन को मंजूरी मिली थी। इन ट्रेनों का संचालन 30 नवंबर तक के लिए किया जाना था। फेस्टिव सीजन के दौर3न रेलवे द्वारा चलाई गईं स्पेशल ट्रेनों में से ज्यादातर ट्रेन 30 नवंबर को बंद हो जाएंगी। इन ट्रेनों के बंद होने से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

ये हैं ट्रेनों की सूची: रक्सौल-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस (05267/05268), सहरसा-आनंद विहार टर्मिनल एक्सप्रेस (05529/05530), राजेन्द्र नगर – सहरसा इंटरसिटी एक्सप्रेस (03228/03227), बरौनी-एरनाकुलम-बरौनी एक्सप्रेस (02521/02522), दरभंगा-मैसुर-दरभंगा एक्सप्रेस (02577/02578), रक्सौल-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस (02545/02546), सहरसा-अमृतसर एक्सप्रेस (05531/05532), जयनगर – पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस (03226/03225), दरभंगा-अहमदाबाद एक्सप्रेस (05559/05560),दरभंगा – जालंधर सिटी एक्सप्रेस (05251/05252), जयनगर-उधना एक्सप्रेस (05563/05564), मुजफ्फरपुर-हावड़ा एक्सप्रेस (05272/05271, जयनगर-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस (05547/05548)

तेजस एक्सप्रेस का संचालन बंद करने की तैयारी: इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन ने यात्रियों की कमी को देखते हुए देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस का संचालन फिर से बंद कर सकती है। इस ट्रेन को पैसेंजर नहीं मिल रहे हैं इस वजह से इन ट्रेनों को एकबार फिर से यार्ड में रखा जा सकता है। कहा जा रहा है कि इसे फिर से यार्ड में रखने की तैयारी शुरू कर दी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 खाते में LPG Gas सब्सिडी के कितने पैसे हुए जमा घर बैठे ही पता कर सकते हैं, जानें स्टेप्स
2 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार ने दी ये अहम जानकारी, जेब पर सीधा असर
3 5 से 15 वर्ष के बच्चों का बायोमेट्रिक सुधार निशुल्क होता है, Aadhaar केंद्र पर कोई पैसे मांगे तो लें ये एक्शन
आज का राशिफल
X