scorecardresearch

Indian Railways IRCTC: 400 से ज्यादा ट्रेनें कैंसल तो 100 से अधिक लेट, जानें- कहीं आपकी गाड़ी पर भी तो नहीं पड़ा कोहरे का असर?

Indian Railways IRCTC: इस बीच, शुक्रवार सुबह समाचार एजेंसी एएनआई ने उत्तर रेलवे के हवाले से बताया कि कोहरे के कारण दिल्ली जाने वाली 21 ट्रेनें देरी से चल रही हैं।

indian railways, irctc, utility news
पंजाब के जालंधर शहर में भीषण कोहरे के बीच से गुजरती एक ट्रेन। (फाइल फोटोः पीटीआई)

Indian Railways IRCTC: भारतीय रेल ने शुक्रवार (21 जनवरी, 2022) से चलने वाली 400 से अधिक ट्रेनों को विभिन्न कारणों से कैंसल कर दिया। रेलवे की वेबसाइट के मुताबिक, 414 रेलगाड़ियां रद्द, 13 री-शिड्यूल और चार डायवर्ट (मार्ग में फेरबदल) रहीं। ऐसी ट्रेनों में कहीं आपकी गाड़ी तो नहीं है? यह जानने के लिए आप रेलवे की वेबसाइट के साथ enquiry.indianrail.gov.in/mntes का रुख कर सकते हैं।

वैसे, आपकी सुविधा के लिहाज से हम यहां ऐसी कुछ कैंसल ट्रेनों की लिस्ट साझा कर रहे हैं:

इस बीच, उत्तर रेलवे ने बताया कि कोहरे के कारण दिल्ली जाने वाली 21 ट्रेनें देरी से चल रही हैं। वहीं, दिल्ली से कानपुर के बीच चलने वाली श्रमशक्ति एक्सप्रेस और स्वर्ण शताब्दी सहित 78 रेलगाड़ियां लेट हुईं। दरअसल, सर्दी के सितम के बीच कोहरे के कारण गुरुवार को दिल्ली, हावड़ा (पश्चिम बंगाल) और मुंबई (महाराष्ट्र) रूट पर चलने वाली गाड़ियों पर असर पड़ा। जो श्रमशक्ति सुबह साढ़े छह से सात बजे के बीच कानपुर पहुंचती है, वह सुब 10 बजे के बाद वहां आई। यही नहीं, बाकी ट्रेनें भी एक से छह घंटे की देरी से अपने गंतव्यों को पहुंचीं।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेलगाड़ियों के लेट होने और चलने की वजह से कई यात्री कड़कड़ाती ठंड के बीच रेलवे स्टेशंस पर सोने और वक्त गुजराने पर मजबूर हुए। यह भी बताया गया कि कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर करीब साढ़े तीन हजार यात्रियों ने टिकट भी लौटा दिए।

कौन-कौन सी गाड़ियां हुईं लेट?:
स्वर्ण शताब्दी
रांची गरीब रथ एक्सप्रेस
हावड़ा नई दिल्ली
वाराणसी मरुधर एक्सप्रेस
नई दिल्ली पुरी पुरुषोत्तम एक्सप्रेस
नई दिल्ली बनारस मंडुआडीह एक्सप्रेस
जोधपुर-हावड़ा एक्सप्रेस
लखनऊ-छपरा एक्सप्रेस
लोकमान्य से प्रतापगढ़ उद्योग नगरी एक्सप्रेस
सीतापुर एलटीटी
कालका शिरडी एक्सप्रेस
नई दिल्ली जय नगर
पटना आनंद विहार
भोपाल लखनऊ एक्सप्रेस
कोटा पटना
दिल्ली पठानकोट

‘बिन टीका वालों पर यहां ट्रेनों में यात्रा पर पाबंदी जनहित में’: इस बीच, महाराष्ट्र सरकार ने गुरुवार को बंबई उच्च न्यायालय में कहा कि कोरोना के खिलाफ पूरी तरह टीकाकरण नहीं करवाने वाले लोगों के उपनगरीय ट्रेनों से यात्रा करने पर रोक कानून सम्मत एवं ‘तर्कसंगत’ है। सरकार के वकील अनिल अंतुरकार ने कहा कि वैसे तो ऐसी पाबंदी संविधान के अनुच्छेद 19 (1) (डी) के तहत स्वतंत्र रूप से आने-जाने के मौलिक अधिकार का उल्लंघन है लेकिन यह महामारी के मद्देनजर ‘तर्कसंगत’ है।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.