Indian Railways, IRCTC: रेलवे ने यात्रियों की दी ये बड़ी सहुलियत, जानें क्या है

यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इसके जरिए डिब्बों को साफ और कीटाणुरहित किया जा सके। यह सतहों के बीच की दरारों को भी कवर करने में सक्षम है, जिसे किसी अन्य मौजूदा प्रक्रियाओं द्वारा क्लीन नहीं किया जा सकता है।

कोरोना महामारी के कारण अभी सभी ट्रेनों का संचालन नहीं हो रहा है। Source: Express Photo by Deepak Joshi

Indian Railways, IRCTC: उत्तर रेलवे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अब अल्ट्रा वॉयलेट रोबोट यानी यूवीसी तकनीक का इस्तेमाल कर रही है। ट्रेनों में वायरस को फैलने से रोकने के लिए जिस तकनीक का इस्तेमाल हो रहा है वह एयरपोर्ट और यात्री विमानों में भी हो रहा है। यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इसके जरिए डिब्बों को साफ और कीटाणुरहित किया जा सके।

यूवीसी तकनीक का इस्तेमाल दिल्ली मंडल में लखनऊ-शताब्दी स्पेशल में जुलाई 2021 के बाद से किया जा रहा है। उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा, ‘कोविड के समय में यात्रियों की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए, उत्तर रेलवे ने यात्रियों की कड़ी जांच के बाद ट्रेनों में यूवीसी तकनीक को अपनाया है।

भारतीय रेलवे ने दोबारा शुरू की ये सर्विस, लाखों यात्रियों को मिलेगा फायदा

उन्होंने कहा, ‘रिमोट कंट्रोल के साथ इस मशीन का उपयोग करके एक पूरी ट्रेन को स्वचालित रूप से कीटाणुरहित किया जा रहा है। यह सतहों के बीच की दरारों को भी कवर करने में सक्षम है, जिसे किसी अन्य मौजूदा प्रक्रियाओं द्वारा क्लीन नहीं किया जा सकता है।’

अधिकारी ने कहा कि यूवीसी तकनीक बिल्कुल सुरक्षित है। इसे खाली ट्रेन में रिमोट से ऑपरेट किया जाता है ताकि इससे निकलने वाली खतरनाक किरणों से किसी कर्मचारी को नुकसान न पहुंचे।

दरअसल कोरोना की तीसरी लहर का खतरा लगातार बना हुआ है। हालांकि एक्सपर्ट्स का कहना है कि अभी दूसरी लहर ही खत्म नहीं हुई है। ऐसे में रेलवे अपने स्तर पर तैयारी कर रही है ताकि किसी भी विपरीत परिस्थिति से पहले संभला जा सके। ट्रेनों के जरिए लाखों यात्री सफर करते हैं ऐसे में भारतीय रेलवे इसे लेकर अलर्ट मोड पर है। यही वजह है कि रेलवे सभी ट्रेनों का संचालन नहीं कर रही है।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट