scorecardresearch

खुशखबरी! केंद्र सरकार ने रेल कर्मचारियों के 78 दिनों के बोनस की दी मंजूरी, जानिए कितना मिलेगा पैसा

रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव ने जानकारी देते हुए कहा कि 7000 रुपये से अधिक वेतन पाने वाले कर्मचारियों को बोनस प्रति माह 7000 रुपये दी जाएगी। यह वेतन कर्मचारियों को दशहरा की छुट्टियां शुरू होने से पहले बोनस का भुगतान कर दिया जाएगा।

खुशखबरी! केंद्र सरकार ने रेल कर्मचारियों के 78 दिनों के बोनस की दी मंजूरी, जानिए कितना मिलेगा पैसा
इन रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा 78 दिनों का बोनस (फोटो-PTI)

दशहरा से पहले रेल कर्मचारियों के लिए केंद्र सरकार ने बड़ी खुशखबरी दी है। बोनस के तौर पर 78 दिनों का वेतन इन कर्मचारियों को दिया जाएगा। रेलवे मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली कैबिनेट ने शनिवार, (1 अक्‍टूबर, 2022) को रेलवे कर्मचारियों का बोनस 78 दिनों की मजदूरी के बराबर अप्रूव कर दिया है।

रेलवे की ओर दी गई जानकारी के अनुसार, इस फैसले से रेलवे के 11.27 लाख कर्मचारियों को लाभ पहुंचेगा। वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए आरपीएफ और आरपीएसएफ कर्मियों को छोड़कर अराजपत्रित रेल कर्मचारियों को 78 दिनों के वेतन के बराबर प्रोडक्‍ट लिंक बोनस (पीएलबी) का भुगतान किया जाएगा।

दशहरा से पहले दिया जाएगा बोनस

रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव ने जानकारी देते हुए कहा कि 7000 रुपये से अधिक वेतन पाने वाले कर्मचारियों को बोनस प्रति माह 7000 रुपये दी जाएगी। यह वेतन कर्मचारियों को दशहरा की छुट्टियां शुरू होने से पहले बोनस का भुगतान कर दिया जाएगा।

अधिकतम कर्मचारियों को कितना मिलेगा पैसा

रेलवे कर्मचारियों को 78 दिनों के पीएलबी के भुगतान का वित्तीय प्रभाव 1,832.09 करोड़ रुपये होने का अनुमान लगाया गया है। पीएलबी के भुगतान के लिए निर्धारित वेतन सीमा 7,000 प्रति माह है। प्रति पात्र रेलवे कर्मचारी को 78 दिनों के लिए करीब 17,951 रुपये का भुगतान किया जाएगा।

रेल मंत्रालय ने क्‍या दी जानकारी

रेल मंत्रालय के सर्कुलर ने रेलवे कर्मचारियों को लेकर कहा गया है कि कर्मचारियों ने उस क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसमें उन्होंने लॉकडाउन अवधि के दौरान भी आवश्यक वस्तुओं जैसे भोजन, उर्वरक, कोयला और अन्य वस्तुओं की उपलब्‍धता कराई थी। सर्कुलर में कहा गया है कि रेल कर्मचारियों ने यात्री और माल सेवाओं में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई है।

वित्त वर्ष 2021-22 में, रेलवे ने 184 मिलियन टन की माल ढुलाई की थी, जो अब तक का सबसे अधिक है। पीएलबी का भुगतान एक प्रोत्साहन के रूप में काम करेगा। पीएलबी के भुगतान से आगामी त्योहारी सीजन में अर्थव्यवस्था में मांग को भी बढ़ावा मिलेगा।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 02-10-2022 at 10:32:36 am
अपडेट