X

IRCTC: गोमती, आगरा इंटरसिटी समेत कई ट्रेनें 25 तक कैंसल, जानिए क्‍या है वजह

IRCTC Train Cancellation List, Time Table, Train Ticket Booking Online, Running Status, Schedule, Enquiry: पूर्व मध्य रेलवे के पनकी में नॉनइंटरलॉकिंग कार्य की वजह से गोमती एक्सप्रेस और आगरा इंटरसिटी समेत कई ट्रेनों को 12 से 25 सितंबर तक रद कर दिया गया है।

पूर्व मध्य रेलवे से होकर गुजरने वाली गोमती एक्सप्रेस और आगरा इंटरसिटी समेत कई ट्रेनों को 12 से 25 सितंबर तक रद कर दिया गया है। इसके साथ ही कई ट्रेनों का रूट डायवर्ट हो गया है। 26 सितंबर इन ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो जाएगा। इसके पीछे की वजह नॉन इंटरलॉकिंग काम है। बुधवार (12 सितंबर) से पूर्व मध्य रेल के पनकी स्टेशन पर नॉन इंटरलॉकिंग का काम शुरू हो रहा है।

नॉन इंटरलॉकिंग काम की वजह से हावड़ा-श्रीगंगानगर-हावड़ा (तूफान एक्सप्रेस), लखनऊ-नई दिल्ली-लखनऊ (गाेमती एक्सप्रेस), प्रयागराज-चंडीगढ़-प्रयागराज (ऊंचाहार एक्सप्रेस), मालदा टाउन-भिवानी-मालदा टाउन (फरक्का एक्सप्रेस), हटिया-आनंदविहार-हटिया (झारखंड एक्सप्रेस), अलीपुर द्वार-दिल्ली जंक्शन-अलीपुर द्वार(महानंदा एक्सप्रेस), आगरा छावनी-लखनऊ न्यू-आगरा छावनी इंटरसिटी एक्सप्रेस, झांसी-कानपुर-झांसी (झांसी पैसेंजर), 64587  कानपुर सेंट्रल-टूंडला, 64588 टूंडला- कानपुर सेंट्रल, 64589 कानपुर सेंट्रल-फफूंद, 64590 फफूंद-कानपुर सेंट्रल, 64163 कानपुर सेंट्रल-पनकी रद रहेंगी।

इन ट्रेनों का बदल जाएगा रूट: 14853, 14863, 14865 मरुधर 12 से 24 तक कानपुर-कासगंज-मथुरा होकर गुजरेगी। 15045 गोरखपुर-ओखा एक्सप्रेस 13 से 20 तक कानपुर-टूंडला-आगरा छावनी-झांसी होकर चलेगी। वहीं, 15046 ओखा-गोरखपुर एक्सप्रेस 16 से 23 सितंबर तक झांसी-आगरा छावनी-टूंडला-कानपुर होकर आएगी। 14854, 14864, 14866 मरुधर 12 से 24 सितंबर तक फर्रुखाबाद-कासगंज होकर गुजरेगी। 13237/13239 पटना-कोटा एक्सप्रेस और 13238/13240 कोटा-पटना 12 से 24 सितंबर तक कानपुर-कासगंज-मथुरा होकर चलेगी। 22433 गाजीपुर-सिटी-आनंद विहार एक्स. 15, 18 और 22 सितंबर को कानपुर अनवरगंज-फर्रूखाबाद-शिकोहाबाद होकर और 22434 आनंद विहार टर्मिनल-गाजीपुर एक्सप्रेस 14, 17, 21 और 24 सितंबर को कानपुर अनवरगंज-फर्रूखाबाद-शिकोहाबाद होकर आएगी। 19053 सूरत-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस 14 व 21 सितंबर को झांसी-आगरा-टूंडला-कानपुर होकर आएगी। 19054 मुजफ्फरपुर-सूरत 16 व 23 सितंबर को झांसी-आगरा छावनी-टूंडला-कानपुर होकर जाएगी। इसके साथ ही शताब्दी, राजधानी सहित अन्य ट्रेनें जो पनकी यार्ड से होकर गुजरेंगी, उनकी रफ्तार भी एक निश्चित दूरी में 20 किलोमीटर रहेगी।

बता दें कि पनकी में नॉन इंटरलॉकिंग कार्य के दौरान पुरानी सिग्नल प्रणाली को नई इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल प्रणाली में बदला जाएगा। नई प्रणाली लगने के बाद पनकी से कानपुर सेंट्रल के बीच एक साथ कई ट्रेनें गुजर सकेंगी। भाऊपुर से पनी के बीच तीसरी रेल लाइन वर्ष 2009 में शुरू हो गई थी, लेकिन अब तक सिर्फ मालगाडि़यां चल रही थी। अब नॉन इंटरलॉकिंग के बाद इस लाइन के तीसरी, चौथी सहित अन्य रूटों से कनेक्टिविटी हो जाएगी। इससे मालगाड़ी के अलावा मेल, पैसेंजर व अन्य एक्सप्रेस ट्रेन भी गुजरने लगेगी। हालांकि, पैसेंजर ट्रेन का संचालन रेलवे के मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) के निरीक्षण के बाद ही होगा।

  • Tags: indian rail, Train Cancellation,