ट्रेन खुलने से 20 मिनट पहले पहुंचना होगा स्टेशन, एयरपोर्ट जैसा नियम बना रहा रेलवे

उच्च तकनीक वाली इस सुरक्षा योजना को इस महीने शुरू हो रहे कुंभ मेला के मद्देनजर इलाहाबाद में और कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन पर पहले से ही शुरू कर दिया गया है।

Author Updated: January 7, 2019 10:33 AM
Indian Railways, Indian Trains, Trains Late, Fog, Weather, New Delhi, National News, Hindi News, भारतीय रेल, ट्रेन, रेल गाड़ियां, देरी, कोहरा, दृश्यता, फरक्का एक्सप्रेस मालदा-दिल्ली जंक्शन, महाबोधि गया-नई दिल्ली, पूर्वा एक्सप्रेस हावड़ा-नई दिल्ली और गरीब रथ जयनगर-आनंद विहार, राष्ट्रीय समाचार, हिंदी समाचारतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटो: Freepik)

रेलवे हवाईअड्डों की ही तरह स्टेशनों पर भी ट्रेनों के तय प्रस्थान समय से कुछ समय पहले प्रवेश की अनुमति बंद करने की योजना बना रहा है। रेलवे के इस नए नियम के बाद यात्रियों को सुरक्षा जांच की प्रक्रिया पूरी करने के लिए 15 से 20 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा। रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक अरुण कुमार ने बताया कि उच्च तकनीक वाली इस सुरक्षा योजना को इस महीने शुरू हो रहे कुंभ मेला के मद्देनजर इलाहाबाद में और कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन पर पहले से ही शुरू कर दिया गया है। साथ ही 202 रेलवे स्टेशनों पर योजना को लागू करने के लिए खाका तैयार कर लिया गया है।

उन्होंने बताया, ‘‘योजना रेलवे स्टेशनों को सील करने की है। यह मुख्यत: प्रवेश बिंदुओं की पहचान करने और कितनों को बंद रखा जा सकता है यह निर्धारित करने के संबंध में है। कुछ इलाके हैं जिन्हें स्थायी सीमा दीवारें बनाकर बंद कर दिया जाएगा, अन्य पर आरपीएफ र्किमयों की तैनाती होगी और उसके बाद बचे बिंदुओं पर बंद हो सकने वाले गेट होंगे।

कुमार ने कहा, ‘‘प्रत्येक प्रवेश बिंदु पर आकस्मिक सुरक्षा जांच होगी। बहरहाल, हवाई्अड्डों के उलट यात्रियों को घंटों पहले आने की जरूरत नहीं होगी बल्कि प्रस्थान समय से केवल 15-20 मिनट पहले आना होगा ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सुरक्षा प्रक्रिया के चलते देरी न हो।’’ उन्होंने कहा कि सुरक्षा बढ़ेगी, सुरक्षार्किमयों की संख्या नहीं।

वहीं, प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले में आने वाले रेल यात्रियों की सहायता के लिये अखिल भारतीय स्तर पर मोबाइल पर यूटीएस एप लॉन्च किया गया है। यह एप कुंभ मेले में आने वालों को पेपरलेस टिकटिंग की सुविधा प्रदान करेगा । साथ ही यह एप स्टेशनों पर उपलब्ध यात्री सुविधाओं यानी पार्किंग स्थल, रिफ्रेशमेंट रूम, प्रतीक्षा कक्ष, बुक स्टॉल, खाद्य प्लाजा, एटीएम, ट्रेन पूछताछ इत्यादि के बारे में जानकारी भी देगा।

उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) ने ‘रेल कुंभ सेवा” मेला एप-2019 नामक यह मोबाइल एप्लिकेशन विकसित किया है। यह मोबाइल एप सभी ”मेला स्पेशल” ट्रेनों के बारे में भी जानकारी प्रदान करेगा जो प्रयागराज (एनसीआर, एनआर, एनईआर) के सभी स्टेशनों से मेला अवधि के दौरान चलेंगी। इसमें अनारक्षित और आरक्षित टिकट दोनों को बुक करने का एक लिंक और प्रयागराज के सिविल एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा विकसित एप का लिंक होगा।

एप पर एक फोटो गैलरी उपलब्ध होगी जिसमें अतीत और वर्तमान कुंभ मेला के साथ-साथ रेलवे से संबंधित अन्य सुविधाओं की तस्वीरें भी होंगी जो एप के उपयोगकर्ताओं के लिए लाभदायक हो सकती हैं। एप में नैविगेशन, स्टेशन पर यात्री सुविधाएं, मेला विशेष ट्रेनें स्टेशनों पर यात्री आश्रय गृह, मेले में रेलवे शिविर, आपातकालीन संपर्क, ऑन कॉल सेवाएं, रेलवे टिकट बुकिंग, हेल्पलाइन नंबर, महत्वपूर्ण लिंक, शिकायत / प्रतिक्रिया, चित्र प्रदर्शनी, मानचित्र जैसी सुविधायें उपलब्ध होंगी।

Next Stories
1 इन छोटी बचत योजनाओं में करें निवेश, 7 फीसदी से ज्यादा मिलता है रिटर्न
2 मुफ्त हेल्‍थ चेक-अप के हकदार हैं या नहीं? ऐसे पता लगाएं
3 Indian Railways: रेल कुंभ सेवा ऐप लॉन्‍च, पेपरलेस टिकट समेत मिलेंगी इतनी सुविधाएं
X