ताज़ा खबर
 

India Post: डाकघर बचत खाते में थे पैसे पर हो गए धोखाधड़ी के शिकार, तब क्या करें? जानिए

India Post: डाकघर में खाता रखना आज भी बैंकों के मुकाबले अधिक फायदेमंद है। डाकघर में खाता चलाना सरल है। यह अन्य बैंकों के खाते जैसा ही है, लेकिन लाभ उससे कहीं ज्यादा हैं। यही कारण है कि आज भी देश के ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में लोग इनमें खाते खुलवाना पसंद करते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: October 8, 2019 7:54 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

India Post: भारतीय डाकघर यानि कि इंडियन पोस्ट ऑफिस में कई तरह के बचत खाते (सेविंग अकाउंट) की सुविधा मिलती है। ये खाते बैंक के ही बचत खाते की तरह होते हैं। ग्राहक इनमें पैसा रखकर ब्याज का लाभ उठाते हैं। डाकघर की बचत योजनाएं अपनी सभी नौ छोटी बचत योजनाओं पर सबसे अच्छी ब्याज दर प्रदान करती हैं।

डाकघर में खाता रखना आज भी बैंकों के मुकाबले अधिक फायदेमंद है। डाकघर में खाता चलाना सरल है। यह अन्य बैंकों के खाते जैसा ही है, लेकिन लाभ उससे कहीं ज्यादा हैं। यही कारण है कि आज भी देश के ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में लोग इनमें खाते खुलवाना पसंद करते हैं।

लेकिन कई बार ऐसा होता है कि हम डाकघर बचत खाते में जमा की गई रकम पर धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं। हमारी मेहनत की जमा पूंजी पल भर में छूमंतर हो जाती है। ऐसे में हमें समझ नहीं आता कि हम क्या करें और क्या नहीं। आज हम आपको इन्हीं समस्याओं के समाधान के बारे में बताएंगे। अगर भविष्य में कभी आपके डाकघर बचत खाते में सेंध लग जाए तो आप सरकार द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर और शिकायत केंद्र से संपर्क कर सकते हैं।

अगर आप के साथ किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी होती है तो आप कस्टमर केयर पर बात कर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। इसके लिए आप टोल फ्री नंबर 1800 266 6868 पर कॉल कर सकते हैं। वहीं अगर आप एटीएम के जरिए धोखाधड़ी का शिकार होते हैं तो इसके लिए आप टोल फ्री नंबर 1800 425 2440 पर कॉल कर सकते हैं। इस नंबर का इस्तेमाल एटीएम/ डेबिट कार्ड, मोबाइल / इंटरनेट/ एसएमएस बैंकिंग से संबंधित शिकायतों के लिए किया जा सकता है।

इसके अलावा आप डाकघर के पोस्टमास्टर/ प्रभारी या फिर अधीक्षक, सीनियर अधीक्षक (जहां लेनदेन हुआ है) के पास जाकर भी अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। अगर ये अधिकारी आपकी शिकायत पर जांच को आगे नहीं बढ़ाते या फिर आप जांच से संतुष्ट नहीं होते हैं तो फिर आप चीफ पोस्टमास्टर जनरल के समक्ष अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। वहीं अगर आप यहां पर भी जांच से असंतुष्ट हैं तो फिर डाक निदेशालय में अधिकारियों संपर्क कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 LIC के इस प्लान में कम अवधि में निवेश कर पाएं चार गुना फायदा, 32 लाख रिटर्न और मुफ्त बीमा का फायदा
2 Mutual Fund SIP: छोटा निवेश भी आपको बना सकता है लखपति, इस प्लान में 100 रुपये रोजाना निवेश पर मिलेंगे 30 लाख
3 LIC के इस स्कीम में करेंगे 121 रुपए का निवेश तो बेटी की शादी या पढ़ाई पर मिलेंगे 27 लाख रुपए, जानें डिटेल्स