LPG सिलिंडर सीधे डीलर और वजन तोल कर ही लेंगे तो फायदे में रहेंगे, जानें ठगी से बचने के तरीके

ठग उपभोक्ताओं की कम जानकारी का फायदा उठाकर ही चूना लगाते हैं। मसलन एलपीजी सिलिंडर अगर आप बिचौलियों से न खरीदकर सीधे डीलर के जरिए खरीदते हैं तो आपको बिना छेड़छाड़ वाला सिलिंडर मिलेगा।

LPG सिलिंडर। Express photo by Vishal Srivastav

एलपीजी सिलिंडर लेते वक्त ग्राहकों को कई तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि हर दिन ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं जिसमें ग्राहकों को ठगी का शिकार बना लिया जाता है। अगर आप ठगी से बचना चाहते हैं तो सिलिंडर खरीदते वक्त कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें।

ठग उपभोक्ताओं की कम जानकारी का फायदा उठाकर ही चूना लगाते हैं। मसलन एलपीजी सिलिंडर अगर आप बिचौलियों से न खरीदकर सीधे डीलर के जरिए खरीदते हैं तो आपको बिना छेड़छाड़ वाला सिलिंडर मिलेगा। इसके साथ ही ग्राहकों को हमेशा तौलकर ही सिलिंडर लेना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि एलपीजी सिलेंडरों से गैस चोरी करने के बात सामने आती रहती है।

अक्सर देखने को मिलता है जब ग्राहक इस बात की शिकायत करते हैं कि उनके सिलिंडर की गैस जल्दी खत्म हो गई जबकि आमतौर पर वह ज्यादा दिन तक चलता था। एजेंसी के गोदाम और घर डिलीवरी के दौरान सिलिंडर वजन करने के साथ साथ पूरी तरह जांच करने के बाद ही डिलीवरी देने का नियम है।

उपभोक्ताओं को सिलेंडर तौलकर डिलीवरी करना अनिवार्य है ऐसे में अगर आपको सिलिंडर तौलकर न दिया जाए तो आप अपनी गैस एजेंसी में शिकायत कर सकते हैं।

इसके अलावा ठग गैस सब्सिडी के नाम पर भी लोगों को ठगी का शिकार बना लेते हैं। ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं जिसमें ठग एजेंसी से लेकर अलग अलग तेल कंपनियों की फ्रेंचाइजी और गैस सिलेंडर डिस्ट्रब्यूटर्स के नाम पर लोगों को ठगने का प्रयास कर रहे हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट