scorecardresearch

कितने तरह के होते हैं आधार कार्ड, जानिए किसका कहां पर कर सकते हैं इस्‍तेमाल

यूआईडीएआई ने जानकारी देते हुए कहा कि UIDAI द्वारा जारी आधार के सभी रूप समान रूप से मान्य हैं। इन सभी का इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

कितने तरह के होते हैं आधार कार्ड, जानिए किसका कहां पर कर सकते हैं इस्‍तेमाल
कौन से आधार कार्ड का कहां होता है इस्‍तेमाल (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

आधार कार्ड का इस्‍तेमाल हर जगह पर होने लगा है। स्‍कूल में एडमिशन कराने से लेकर बैंक में खाता खुलवाने तक या फिर कोई जरूरी दस्‍तावेज में आधार कार्ड को उपयोग हो रहा है। आधार कार्ड 12 अंकों का पहचान नंबर होता है, जो भारत के निवासियों के लिए जनरेट किया जाता है। अगर आप भारत के नागरिक हैं तो आप आधार कार्ड के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। UIDAI की ओर से आधार कार्ड जारी किया जाता है, जो ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से बनाया जा सकता है।

कई तरह के आधार होते हैं, जो अलग-अलग रूप में होते हैं। फिजिकल पेपर से लेकर आधार को डिजिटली यूज किया जा सकता है। यूआईडीएआई ने भी ट्विटर पर इसे लेकर जानकारी देते हुए कहा कि UIDAI द्वारा जारी आधार के सभी रूप समान रूप से मान्य हैं। इन सभी का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। आइए जानते हैं आप कितने तरह के आधार बनवा सकते हैं और इनका इस्‍तेमाल कहां-कहां कर सकते हैं।

आधार लेटर

आधार लेटर एक पेपर-आधारित लैमिनेटेड पत्र है, जिसमें जारी की गई तारीख और प्रिंट की गई तारीख के साथ एक सुरक्षित क्यूआर कोड होता है। वहीं एक नए नामांकन या आवश्यक बायोमेट्रिक अपडेट की स्थिति में, एक आधार पत्र नि: शुल्क है और नियमित मेल के माध्यम से निवासी को जारी किया जाता है। निवासी यूआईडीएआई की वेबसाइट से ऑनलाइन आधार लेटर को बदलने के लिए 50 रुपए लिया जाता है अगर मूल प्रति खो जाता है या क्षतिग्रस्त हो जाता है। निवासी को आधार पत्र की दूसरी प्रति स्पीड पोस्ट द्वारा भेजा जाएगा। इसका उपयोग आप कहीं भी कर सकते हैं।

ई-आधार

आधार का इलेक्ट्रॉनिक वेरिएंट है, जो ई-आधार के नाम से जाना जाता है, यह पासवर्ड से सुरक्षित है। इसमें ऑफ़लाइन सत्यापन के लिए आधार सुरक्षित क्यूआर कोड है और यूआईडीएआई द्वारा डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित है। अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर का उपयोग करके, निवासी यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट से अपना ई-आधार प्राप्त कर सकते हैं। प्रत्येक आधार नामांकन या अपडेट तुरंत एक ई-आधार उत्पन्न करता है, जो मुफ्त डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। इसका भी उपयोग कहीं भी किया जा सकता है, लेकिन इसे केवल डिजिटली रूप से इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

mAadhaar

mAadhaar UIDAI द्वारा बनाया गया एक आधिकारिक मोबाइल एप्लिकेशन है। यह आधार संख्या धारकों को सीआईडीआर के साथ पंजीकृत अपने आधार रिकॉर्ड को ले जाने के लिए एक इंटरफ़ेस प्रदान करता है, जिसमें जनसांख्यिकीय डेटा और एक फोटो के साथ उनका आधार नंबर शामिल है। ऑफलाइन वेरिफाई के लिए आधार सुरक्षित क्यूआर कोड मौजूद है। ई-आधार के समान, जो प्रत्येक आधार नामांकन या अपडेट के साथ स्वतः उत्पन्न होता है, एमआधार भी मुफ्त डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। एमआधार प्रोफ़ाइल को हवाई अड्डों और रेलवे द्वारा एक वैध आईडी प्रमाण के रूप में मान्यता प्राप्त है। दूसरी ओर, निवासी अपने eKYC को साझा करने के लिए ऐप की सुविधाओं का उपयोग कर सकते हैं। इसका भी इस्‍तेमाल ऑनलाइन तरीके से किया जा सकता है।

आधार PVC कार्ड

आधार का नवीनतम संस्करण जो UIDAI ने जारी किया है वह पीवीसी कार्ड है। PVC-आधारित आधार कार्ड में हल्के और टिकाऊ होने के अलावा कई सुरक्षा तत्व, एक डिजिटल रूप से सिग्‍नेचर से सुरक्षित क्यूआर कोड, एक फोटो और जनसांख्यिकीय जानकारी शामिल है। आधार पीवीसी कार्ड स्पीड पोस्ट के माध्यम से निवासी के पते पर भेजे जाते हैं।

आधार संख्या, वर्चुअल आईडी, या नामांकन आईडी और 50 रुपए के शुल्‍क के साथ इसका उपयोग कर सकते हैं। इसे uidai.gov.in या Resident.uidai.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन प्राप्त किया जा सकता है। इसका उपयोग अधिक सुरक्षित माना जाता है। इसे ऑफलाइन और ऑनलाइन तरीके से इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट