ताज़ा खबर
 

59 मिनट में इस वेबसाइट से मिलेगा 1 करोड़ तक का लोन, जानें पूरा तरीका

आवेदन करने से पहले अपना जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड साथ लेकर ही आवेदन करें। इन्कम टैक्स रिटर्न और पैन कार्ड की डिटेल्स की भी आवेदन के वक्त जरुरत पडे़गी।

Author Published on: November 4, 2018 3:38 PM
सरकार छोटे और मध्यम उद्योगों को दे रही यह सुविधा।

केन्द्र सरकार ने छोटे और मध्यम उद्योगों को बड़ी राहत देते हुए शुक्रवार को एक नई योजना लॉन्च की है। इस योजना के तहत छोटे और मध्यम वर्ग के उद्यमियों को सिर्फ 59 मिनट में 1 करोड़ रुपए तक का लोन आसानी से मिल सकेगा। यह पोर्टल स्माल इंडस्ट्रीज डेवलेपमेंट बैंक ऑफ इंडिया (SIDBI) द्वारा लॉन्च किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छोटे और मध्यम उद्यमियों को ‘दिवाली का तोहफा’ देते हुए कहा कि ‘जीएसटी रजिस्टर्ड सूक्ष्म, छोटे और मध्यम वर्ग के उद्योग नए पोर्टल पर जाकर सिर्फ 10 स्टेप में आसानी से लोन ले सकेंगे।

इन बातों का रखें ध्यानः इच्छुक उद्यमी लोन के लिए SIDBI पोर्टल पर लॉग इन करने से कुछ जरुरी कागजात तैयार रखें, ताकि एक बार में ही आसानी से पूरी प्रक्रिया पूरी हो सके। दरअसल इस लोन के आवेदन के लिए कंपनी के पास जीएसटी रजिस्ट्रेशन होना जरुरी है। इसलिए आवेदन करने से पहले अपना जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड साथ लेकर ही आवेदन करें। इन्कम टैक्स रिटर्न और पैन कार्ड की डिटेल्स की भी आवेदन के वक्त जरुरत पडे़गी। इनके अलावा 6 महीने की बैंक डिटेल्स और नेटबैंकिंग डिटेल्स भी जरुर पास में होनी चाहिए। कंपनी से जुड़ी जानकारी तो स्वभाविक ही मांगी जाएगी, इसलिए इसकी जानकारी भी साथ रखें।

किस तरह करें आवेदनः सबसे पहले लोन लेने के इच्छुक उम्मीदवारों को SIDBI को पोर्टल पर जाकर अपना नाम, ईमेल एड्रेस, मोबाइल नंबर आदि की जानकारी देनी होगी।

इसके बाद पूर्व किसी लोन से संबंधित सवालों वाला लिंक खुलेगा। यहां मौजूद सवालों का जवाब देने के बाद I am Registered MSME and I agree with the above selected points को सलेक्ट कर Proceed के बटन पर क्लिक करना होगा।

इसके बाद जो पेज खुलेगा, उसमें उद्यमी को जीएसटी से संबंधित जानकारी और पूरी डिटेल्स की जानकारी देनी होगी।

अगले पेज पर उद्यमी को इन्कम टैक्स से संबंधित जानकारी देनी होगी। साथ ही पैन कार्ड की डिटेल्स भी यहां भरनी होगी। इसके बाद बैंक डिटेल्स और कंपनी इन्फोर्मेशन भरने के बाद उद्यमी को लोन की जरुरत आदि की जानकारी देनी होगी।

इसके बाद उद्यमी को बैंक की जानकारी देनी होगी, जिसमें लोन का पैसा आएगा। इस सेवा के बदले उद्यमियों को एक निश्चित राशि बतौर चार्ज भी देनी होगी। राशि जमा करने के बाद उद्यमी के पास अप्रूवल लैटर आ जाएगा। जिसे डाउनलोड किया जा सकेगा। उल्लेखनीय है कि लोन आपके खाते में आने से पहले बैंक आपसे कुछ अन्य स्पष्टीकरण भी मांग सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पीएफ अकाउंट है तो जरूर ले लीजिए यूएएन नंबर, यह है ऑनलाइन पता करने का तरीका
2 IRCTC: फ्लेक्सी फेयर में राहत लेकिन मार्च से पहले नहीं कर पाएंगे सस्ते में सफर!
3 HDFC बैंक में आती है सैलरी तो दिवाली में उठा लें इन ऑफर्स का फायदा
जस्‍ट नाउ
X