ताज़ा खबर
 

Coronavirus: कोरोना संकट के बीच आम आदमी को राहत पैकेज, EMI, ATM निकासी और बैंक खातों पर सरकार का बड़ा फैसला

Coronavirus in India: वायरस के बड़े स्तर पर फैलने से पहले केंद्र और राज्य सरकारों ने अहतियातन कई कदम उठाए हैं जिनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र का पूरे देश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन का एलान सबसे अहम है।

फाइल फोटो

Coronavirus in India: घातक कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। वायरस ने लगभग हर देश को अपनी चपेट में ले लिया है। भारत में भी इस वायरस संक्रमण के अबतक कुल 519 मामले सामने आ चुके हैं और 10 लोगों की मौत हो चुकी है। वायरस के बड़े स्तर पर फैलने से पहले केंद्र और राज्य सरकारों ने अहतियातन कई कदम उठाए हैं जिनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र का पूरे देश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन का एलान सबसे अहम है। इस बीच लोगों को घरों से बाहर न निकलने के निर्देश हैं।

कोरोना वायरस के चलते सरकार ने देशवासियों को कुछ राहत भी दी है। सरकार ने आईटीआर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख को 30 जून तक बढ़ा दिया है। ये राहत फाइनेंशियल ईयर 2018-19 के लिए है। वहीं किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर अब कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा। फिलहाल 5 ट्रांजेक्शन के बाद जिस बैंक में खाता होता है, उससे इतर किसी बैंक के एटीएम से कैश निकालने पर चार्ज लगता है।

बैंक खातों में मिनिमम बैलेंस रखने से भी छूट दी गई है। इसके अलावा 31 मार्च को खत्म हो रही है आधार पैन लिंकिंग की अंतिम तारीख को भी बढ़ा दिया गया है। सरकार ने इसे भी 30 जून कर दिया है। कोरोना वायरस के चलते व्यापारियों का बिजनेस, नौकरीपेशा लोगों की सैलरी अटक सकती है।

ऐसे में वे लोग जिन्हें इएमआई भरनी है उनको भी सरकार ने राहत दी है। भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDA) ने उन पॉलिसीधारकों को जिनका ड्यूज क्लियर नहीं है उन्हें एक महीने तक का ग्रेस पीरियड दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories