ताज़ा खबर
 

EPFO: पीएफ खाते से जुड़ी हो कोई भी समस्या, यह है शिकायत करने का तरीका

ईपीएफ़ओ की एक वेबसाइट 'EPF I Grievance Management System' है, जहाँ EPF खाताधारक अपनी शिकायतें दर्ज कर सकते हैं। ईपीएफ निकासी, ईपीएफ खाते के ट्रांसफर, केवाईसी से जुड़े मसलों और इसी तरह की शिकायतों को इस वेबसाइट के जरिये दर्ज किया जा सकता है।

Author नई दिल्ली | Published on: December 7, 2019 4:38 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप में किया गया है। (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) देश की एक राज्य प्रोत्साहित अनिवार्य अंशदायी पेंशन और बीमा योजना प्रदान करने वाला शासकीय संगठन है। इस निधि में कर्मचारी के मासिक वेतन से कुछ अंश स्रोत पर ही काट कर जमा कर लिया जाता है। जो कर्मचारी को रिटायरमेंट के बाद एक सरल जीवन जीने में मदद करता है। ईपीएफ़ओ की एक वेबसाइट ‘EPF I Grievance Management System’ है, जहाँ EPF खाताधारक अपनी शिकायतें दर्ज कर सकते हैं। ईपीएफ निकासी, ईपीएफ खाते के ट्रांसफर, केवाईसी से जुड़े मसलों और इसी तरह की शिकायतों को इस वेबसाइट के जरिये दर्ज किया जा सकता है। इस पोर्टल को ईपीएफ खाताधारक, ईपीएफ पेंशनर और कंपनियां इस्तेमाल कर सकती हैं।

शिकायत दर्ज करने के लिए आपको अपना यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) संभालकर रखना होगा। हालांकि, यूएएन, पेंशन पेमेंट ऑर्डर (PPO) नंबर या कंपनी का इस्टैबलिशमेंट नंबर नहीं होने पर भी आप शिकायत दर्ज कर सकते हैं। आप एक ही यूएएन से जुड़े कई पीएफ नंबर से संबंधित शिकायत दर्ज कर सकते हैं। अगर आप ईपीएस पेंशनर हैं तो पीपीओ नंबर देना पड़ता है।

ईपीएफ अकाउंट से जुड़ी शिकायत दर्ज़ करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें –
– सबसे पहले https://www.epfigms.gov.in/ पर जाएं।
– शिकायत दर्ज करने के लिए ‘रजिस्टर ग्रीवांस’ पर क्लिक करें।
– आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर नया वेबपेज खुल जाएगा। उस स्टेटस को चुनें जिसमें शिकायत दर्ज कर रहे हैं। स्टेटस का मतलब पीएफ मेंबर, ईपीएस पेंशनर, इंप्लॉयर या अन्य से है। याद रहे ‘अन्य’ का विकल्प तभी चुनें अगर आपके पास यूएएन/पीपीओ नहीं है।
– पीएफ अकाउंट संबंधी शिकायत को निपटाने के लिए ‘पीएफ मेंबर’ के तौर पर स्टेटस चुनें. आपसे अपना यूएएन और सिक्योरिटी कोड दर्ज करने के लिए कहा जाएगा।
– सही यूएएन और सिक्योरिटी कोड दर्ज करने के बाद ‘गेट डीटेल्स’ पर क्लिक करें। यूएनएन से लिंक छुपी हुई (मास्क्ड) पर्सनल डिटेल आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखने लगेंगी।
– ‘गेट ओटीपी’ पर क्लिक करें। ईपीएफओ डेटाबेस में दर्ज मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर वन-टाइम पासवर्ड भेजा जाएगा।
– इसके बाद मोबाइल पर आया हुआ ओटीपी दर्ज करें
– एक बार ओटीपी के सफलतापूर्वक वेरिफाई हो जाने पर आपसे पर्सनल डिटेल मांगी जाएगी
– पर्सनल डिटेल दर्ज करने पर उस पीएफ नंबर पर क्लिक करें जिसके संबंध में आपको शिकायत दर्ज करनी है
– आपकी स्क्रीन पर एक पॉप-अप दिखेगा। उस रेडियो बटन को चुनें जिससे आपकी शिकायत जुड़ी है।
– ग्रीवांस कैटेगरी को सेलेक्ट करें और अपनी शिकायत का ब्योरा लिखें. इसके पक्ष में यदि कोई सबूत हों तो उन्हें अपलोड कर सकते हैं
– शिकायत दर्ज हो जाने पर ‘ऐड’ पर क्लिक करें
– ‘सब्मिट’ पर क्लिक करें

सब्मिट पर क्लिक करने पर आपकी शिकायत जमा हो जाएगी। आपके रजिस्टर्ड ईमेल और मोबाइल पर कम्प्लेंट रजिस्ट्रेशन नंबर भेजा जाएगा। अपना कम्प्लेंट रजिस्ट्रेशन नंबर संभालकर रखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Tata Sky Binge: महज 249 रुपये महीने में पाएं 700 रुपये से ज्यादा के BENEFIT
2 SBI vs HDFC Bank vs ICICI Bank vs Bank of Baroda vs PNB: टैक्स बचत के लिए करनी है FD तो कर लें तुलना, कौन बैंक दे रहा ज्यादा ब्याज?
3 64 मेगापिक्सल कैमरा वाला MOTOROLA ONE HYPER लॉन्च, 32MP पॉप अप सेल्फी, 45W फास्ट चार्जिंग की है सुविधा, जानें- अन्य खूबियां, कीमत
ये पढ़ा क्‍या!
X