ताज़ा खबर
 

सस्ता बेचने के लिए सोने में मिला रहे सीमेंट जैसा विदेशी पाउडर, जूलर्स भी नहीं पकड़ पा रहे मिलावट, जानें कैसे बचें?

त्योहारों पर सोने की मांग बढ़ने के साथ ही इसके रेट भी बढ़ जाते हैं। ऐसे में बड़े कारोबारी इसमें मिलावट कर लोगों को ठगने का काम भी शुरू कर देते हैं। दिल्ली समेत कई शहरोंं में यह तेजी से चल रहा है।

Author नई दिल्ली | Updated: October 14, 2019 12:50 PM
सोने का बाजार (फोटो सोर्स -इंडियन एक्सप्रेस)

त्योहारों से पहले सोने के बाजार में चमक आने के साथ ही ठगी का कारोबार भी शुरू हो गया है। कई बड़े कारोबारी सोने में एक ऐसा पाउडर मिला रहे हैं, जिससे सोने का आभूषण असली सोने जैसा लगता है। कसौटी पर भी जांच करने में यह पकड़ में नहीं आता है। इसकी वजह से वह नुकसान उठा रहे हैं। सस्ता और सुंदर माल बताकर इस तरह के मिलावटी आभूषण दिल्ली समेत कई शहरों में तेजी से बेचा जा रहा है।

भारतीय त्योहारों पर रहती है ज्यादा मांग : सोना भारतीय श्रृंगार में सबसे महत्वपूर्ण और जरूरी धातु है। इसकी मांग हमेशा और हर जगह रहती है। भारतीय पर्व और त्योहारों में इसकी पूजा भी होती है। कुछ ही दिनों बाद दिपावली का त्योहार है। इस दौरान लोग सोना और सोने से बने आभूषणों को खरीदना जरूरी समझते हैं। इसकी वजह से सोने की मांग इन दिनों बढ़ जाती है। लोग साल भर इसकी खरीदारी भले ही नहीं करें, लेकिन दिपावली पर जरूर करते हैं।

National Hindi News, 14 October 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

मांग बढ़ने के साथ ही शुरू हो गया धंधा : सोने की मांग बढ़ने के साथ ही सोने का कारोबार करने वाले कुछ लोग इसमें मिलावट कर ज्यादा मुनाफा करने लगे हैं। त्योहारों पर यह ज्यादा होता है। खास बात यह है कि त्योहारों से पहले डिस्काउंट और लकी ड्रा निकालकर लोगों को लालच देने के नाम पर यह काम ज्यादा होता है। सोना महंगी धातु है। इसलिए इसके आभूषण खरीदना सभी के लिए संभव नहीं होता है। ऐसे में डिस्काउंट के चक्कर में पड़कर बहुत लोग ऐसे आभूषण खरीद लेते हैं, जो मिलावटी होता है या फिर जिसमें सोने की मात्रा नाम मात्र की होती है।

हालमार्क देखकर ही खरीदें : बाजार के जानकारों का कहना है कि विदेशों से एक खास तरह का पाउडर मंगाया जा रहा है, जिसे सोने के साथ मिलाने पर वह असली सोने जैसा लगता है। यह पाउडर सीमेंट जैसा होता है। कसौटी पर भी यह जांच में पता नहीं चलता है। इसकी वजह से ग्राहक यह पता नहीं कर पाते हैं कि यह असली है कि नकली। जब तक आभूषण को पूरी तरह गलाया नहीं जाए तब तक यह पकड़ में नहीं आता है। विशेषज्ञों का कहना है की हालमार्क देखकर ही सोने की खरीदारी करें और पक्की रसीद जरूर लें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सबसे सस्ता है LIC का जीवन रक्षक, रोजाना 19 रुपये के निवेश पर लाखों का रिटर्न और फ्री इन्श्योरेन्स, इस महीने बंद हो रही स्कीम
2 SBI ग्राहक पढ़ लें ये खबर, कहीं MINIMUM BALANCE के चक्कर में लग न जाए पेनल्टी! जानें नए नियम
3 EPFO: आपके पीएफ खाते में सरकार ने डालनी शुरू की रकम! जानें BALANCE CHECK करने का तरीका
ये पढ़ा क्‍या!
X