30 नवंबर से पहले EPF अकाउंट को करा लें आधार कार्ड से लिंक, नहीं हो सकता है बड़ा नुकसान; जानें तरीका

30 नवंबर तक अपने UAN नंबर को आधार कार्ड से लिंक नहीं करेंगे। तो आपके EPFO अकाउंट में जमा राशि ब्लॉक हो जाएगी। जिससे आपको भविष्य में काफी परेशानी होगी।

EPFO, UAN, PF, Aadhar Card
आपके KYC दस्तावेज सही होने पर आपका आधार आपके EPF खाते से लिंक हो जाएगा।

सरकार ने आधार कार्ड को बैंक अकाउंट और पैन कार्ड के साथ लिंक करना अनिवार्य कर दिया है। इसके साथ ही अब आधार कार्ड को अपने यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) से भी लिंक कराना होगा। अगर आपने अभी तक नहीं कराया है। तो जल्दी करें। क्योंकि UAN से आधार को लिंक कराने की आखिरी तारीख 30 नवंबर होगी। अगर आप अब भी अपने आधार कार्ड को UAN से लिंक नहीं करेंगे तो भविष्य में आपको कई मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। आइए जानते है कि, आधार को UAN से कैसे लिंक किया जा सकता है।

आधार कार्ड UAN से नहीं किया लिंक तो क्या होगा? अगर आप 30 नवंबर तक अपने UAN नंबर को आधार कार्ड से लिंक नहीं करेंगे। तो आपके EPFO अकाउंट में जमा राशि ब्लॉक हो जाएगी। आपको बता दें EPFO अकाउंट में नियोक्ता और कर्मचारी के PF का शेयर जमा होता है और इस राशि पर सरकार की ओर से ब्याज भी दिया जाता है। EPFO में जमा राशि को आप अपनी जरूरत के समय या फिर रिटायरमेंट के समय निकाल सकते हैं।

क्या होता है UAN नंबर? भविष्य निधि संगठन (EPFO) में रजिस्टर्ड होने पर कर्मचारियों को EPFO के द्वारा एक 12 अंकों का UAN नंबर दिया जाता है। ये नंबर नौकरी बदलने के बाद भी स्थायी रहता है और इसी के जरिए दूसरी संस्था का पीएफ भी आपके अकाउंट में जमा होता रहता है। इसके साथ ही UAN नंबर की मदद से ही आप अपने PF अकाउंट में ऑनलाइन पासबुक को देख सकते है। इसके साथ ही आप जब भी EPFO से अपने पीएफ के पैसे निकालते हैं तो UAN नंबर उसमें भी बहुत काम आता है।

आधार कार्ड को UAN से कैसे करें लिंक?

>> सबसे पहले आप EPFO पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाएं।
>> UAN और पासवर्ड का इस्तेमाल करके अपने अकाउंट में लॉग-इन करें।
>> “Manage” सेक्शन में KYC ऑप्शन पर क्लिक करें।
>> जो पेज खुलता है वहां आप अपने EPF अकाउंट के साथ जोड़ने के लिए कई डॉक्युमेंट्स देख सकते हैं।
>> आधार विकल्प का चयन करें और अपना आधार नंबर और आधार कार्ड पर दर्ज अपने नाम को टाइप कर सेव पर क्लिक करें।
>> आपके द्वारा दी गई जानकारी सुरक्षित हो जाएगी, आपका आधार UIDAI के डेटा से वैरिफाई किया जाएगा।
>> आपके KYC दस्तावेज सही होने पर आपका आधार आपके EPF खाते से लिंक हो जाएगा और आपको अपने आधार जानकारी के सामने “Verify” लिखा मिलेगा।

यह भी पढ़ें: LPG कनेक्शन को अब न लगाने पड़ेंगे चक्कर, IOCL का नंबर जारी, सिर्फ मिस्ड कॉल से होगा पूरा काम

EPF अकाउंट में कर्मचारी और एम्प्लॉयर दोनों डालते हैं पैसा – EPFO एक्ट के तहत कर्मचारी की बेसिक सैलरी प्लस DA का 12% EPF अकाउंट में जाता है। तो वहीं, एम्प्लॉयर (कंपनी) भी कर्मचारी की बेसिक सैलरी प्लस डीए का 12% कॉन्ट्रिब्यूट करती है। कंपनी के 12% कॉन्ट्रिब्यूशन में से 3.67% कर्मचारी के पीएफ अकाउंट में जाता है और बाकी 8.33% कर्मचारी पेंशन स्कीम में जाता है। EPF अकाउंट पर सालाना 8.50% ब्याज मिल रहा है।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
क‍िसी भी स्‍मार्टफोन में ये समस्‍याएं हैं आम, ऐसे कर सकते हैं समाधान
अपडेट