ताज़ा खबर
 

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की इस स्कीम में 595 रुपये महीना जमा करें, बन जाएंगे लखपति

Central Bank of India Saving Scheme: स्कीम का नाम 'जब चाहो लखपति बन जाओ' है। 10 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे इस प्लान में निवेश कर सकते हैं वहीं 10 वर्ष से कम उम्र के अवयस्क अपने अभिभावक के साथ संयुक्त रूप से निवेश कर सकते हैं।

lic jeevan shiromani, lic jeevan shiromani plan, lic new policy, lic policy, lic jeevan shiromani plan in hindi, lic jeevan shiromani plan interest date, lic jeevan shiromani policy, lic jeevan shiromani policy interest rate, lic jeevan shiromani premieum rate, lic jeevan shiromani details in hindi, lic jeevan shiromani form, lic policy jeevan shiromani, lic jeevan shiromani policy in hindi, lic jeevan shiromani policy plan in hindiभारतीय करंसी। (फाइल फोटो) सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

Central Bank of India Saving Scheme: मेहनत की मोटी और गाढ़ी कमाई और थोड़ी सी बचत हमें भविष्य में वित्ती सुरक्षा प्रदान करती है। अगर अपनी बचत को समय रहते सही जगह निवेश कर दें तो हमें बेहतर रिटर्न हासिल होता है। कई लोगों का सपना होता है कि वह कम समय में लखपति बन जाएं। ऐसे में आज हम आपका सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की एक ऐसी स्कीम के बारे में बता रहे हैं जिसमें आप महीने के 595 रुपये भरकर अपना यह सपना पूरा कर सकते हैं।

इस स्कीम का नाम ‘जब चाहो लखपति बन जाओ’ है। 10 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे इस प्लान में निवेश कर सकते हैं वहीं 10 वर्ष से कम उम्र के अवयस्क अपने अभिभावक के साथ संयुक्त रूप से निवेश कर सकते हैं। इस स्कीम में ग्राहकों को एक से लेकर दस साल तक निवेश की सहुलियत मिलती है। यानी कि ग्राहक अपने बजट के हिसाब से मैच्योरिटी पीरियड और प्रीमियम टर्म को चुन सकता है। अगर आप एक साल में लखपति बनना चाहते हैं तो आपको हर महीने एक साल तक 8040 रुपये का प्रीमियम भरना होगा।

वहीं अगर आप 595 रुपये महीना भरेंगे तो आप 10 साल में लखपति बन जाएंगे। 10 साल तक नियमित प्रीमियम भरने के बाद मैच्योरिटी पर 1 लाख रुपए से ज्यादा का रिटर्न हासिल होगा। एक साल वाले प्लान में मौजूदा समय में 6.65 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है तो वहीं 10 साल वाले प्लान में 6.45 फीसदी। ध्यान रहे कि जब भी ब्याज दरे संशोधित होती है, नये खातों के लिए मासिक किश्त भी परिवर्तित हो जाती है।

बैंक की वेबसाइट पर जानकारी दी गई है कि मैच्योरिटी पर मिलने वाली रकम पर आयकर नियमों के अनुसार टीडीएस की कटौती की जाएगी। वहीं अगर देर से प्रीमियम भरा जाता है तो पेनल्टी लगेगी। जमाकर्त्ता इंटरनेट बैंकिंग या उसे जारी पासबुक के माध्यम से खाते की निगरानी कर सकते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुकन्या समृद्धि खातों में अनिवार्य न्यूनतम राशि 30 जून तक हो सकती है जमा, PPF पर भी मिली है ये छूट
2 लॉकडाउन में शराब तस्करी पड़ेगी महंगी, ये है सजा का प्रावधान
3 Covid-19 lockdown: पब्लिक ट्रांसपोर्ट सेवाएं जल्द हो सकती हैं शुरू, जानें क्या है सरकार की प्लानिंग
IPL 2020 LIVE
X