दिल्ली में लोगों को मिलता रहेगा फ्री राशन, केजरीवाल सरकार ने किया ऐलान, केंद्र से की यह मांग

दिल्ली सरकार ने फ्री राशन स्क्रीम को अगले साल मई तक के लिए बढ़ा दिया है। सीएम केजरीवाल ने इसकी घोषणा शनिवार को की है।

Arvind kejriwal, delhi free ration
दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल (फोटो- @ArvindKejriwal)

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने फ्री राशन को लेकर बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि राज्य में गरीबों को मुफ्त में अनाज मिलता रहेगा। इसके साथ ही केंद्र से भी इसे बढ़ाने की मांग की गई है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार ने अपनी मुफ्त राशन योजना को छह महीने के लिए मई 2022 तक बढ़ाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा- “महंगाई अपने चरम पर है। आम आदमी एक दिन में दो वक्त के भोजन के लिए भी संघर्ष कर रहा है। कई लोगों ने कोरोना के कारण अपनी नौकरी खो दी है। प्रधानमंत्री महोदय, कृपया गरीबों को मुफ्त राशन की आपूर्ति की योजना को छह महीने तक बढ़ा दें। दिल्ली सरकार अपनी मुफ्त राशन योजना को अगले छह महीने के लिए बढ़ा रही है।”

सीएम केजरीवाल की ये मांग, खाद्य सचिव सुधांशु पांडे के उस बयान के बाद आया है जिसमें कहा गया है कि केंद्र के पास प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेवाई) के माध्यम से मुफ्त राशन के वितरण को 30 नवंबर से आगे बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है। दिल्ली सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और पीएमजीकेवाई के तहत लाभार्थियों को मुफ्त राशन वितरित करती है।

दिल्ली में फ्री राशन के लिए 2,000 से अधिक उचित मूल्य की दुकानें है और 17.77 लाख राशन कार्ड धारक के साथ-साथ लगभग 72.78 लाख लाभार्थी हैं। इन राशन की दुकानों के माध्यम से गरीब लोगों को रियायती अनाज के अलावा मुफ्त राशन भी दिया जाता है।

इस योजना को पिछले साल मार्च में कोरोना के कारण हुए संकट को दूर करने के लिए लॉन्च किया गया था। शुरुआत में यह योजना पिछले साल अप्रैल-जून के लिए शुरू की गई थी, लेकिन बाद में इसे बढ़ाकर 30 नवंबर कर दिया गया। जून 2021 में ही पीएम ने ये कहा था कि इस स्कीम को नवंबर तक के लिए बढ़ाया जाएगा। उन्होंने 30 जून को दिए अपने भाषण में कहा था कि 8 महीने में मुफ्त राशन को बांटने में सरकार को कुल 1.5 लाख करोड़ रुपए खर्च करने पड़े हैं।

इससे पहले यूपी में भी सीएम योगी ने मार्च तक गरीबों को फ्री में अनाज देने की घोषणा की थी। सीएम योगी ने ऐलान करते हुए कहा था कि 15 करोड़ लोग हर महीने इसका लाभ लेंगे। अंत्योदय कार्ड धारक को राशन में 35 किलो चावल, गेहूं के साथ-साथ दाल, तेल और नमक भी मिलेगा। अंत्योदय कार्ड धारक को हर महीने चीनी भी मिलेगी।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
आरटीआइ के तहत सूचना मांगने की वजह बताएं: मद्रास हाई कोर्ट1975 LN Mishra Murder Case
अपडेट