scorecardresearch

PM Kisan Yojana के तहत eKYC कराने की डेडलाइन बढ़ी, अब इस तारीख तक कर सकते हैं यह काम

PM Kisan Scheme eKYC Latest Date: इस योजना के तहत किसानों को ई-केवाईसी करना अनिवार्य है। नहीं तो योजना की अगली किस्‍त नहीं भेजी जाएगी।

PM Kisan Yojana के तहत eKYC कराने की डेडलाइन बढ़ी, अब इस तारीख तक कर सकते हैं यह काम
PM Kisan Scheme eKYC कराने की डेडलाइन बढ़ाई गई। (फोटो- Freepik)

केंद्र सरकार ने किसानों को बड़ी राहत दी है। पीएम किसान योजना के तहत किसानों को eKYC कराने की अंतिम तारीख को बढ़ा दिया गया है। PM Kisan Yojana की वेबसाइट पर अपडेट के अनुसार, अब किसान 31 अगस्‍त 2022 तक ई-केवाईसी को पूरा कर सकते हैं। इससे पहले यह डेडलाइन 31 जुलाई दी गई थी। इसके अलावा अगर आप ऑफलाइन यह काम करना चाहते हैं तो csc सेंटर पर जाकर कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत लोगों को हर साल 6 हजार रुपए दिया जाता है। यह रकम किसानों के खाते में तीन किस्‍त में दी जाती है। हर किस्‍त चार महीने के अंतराल पर जारी की जाती है। अभी तक इस योजना के तहत 11वीं किस्‍त जारी की जा चुकी है और 12वीं किस्‍त आने वाली है, ऐसे में किसानों को ई-केवाईसी करना अनिवार्य है। नहीं तो योजना की अगली किस्‍त नहीं भेजी जाएगी।

कहां पर करा सकते हैं ई-केवाईसी

अगर आप भी इस येाजना के तहत लाभ पाना चाहते हैं और ई-केवाईसी कराना चाहते हैं तो इसे आप दो तरीके से पूरा कर सकते है । सरकार ने eKYC को पूरा कराने के लिए PMKISAN पोर्टल पर इसकी सुविधा दी है, जहां रजिस्‍टर्ड किसान ईकेवाईसी कर सकते हैं। ऐसे ही आप बायोमेट्रिक आधारित ईकेवाईसी के लिए निकटतम सीएससी केंद्रों से संपर्क कर सकते हैं। सभी PMKISAN लाभार्थियों के लिए eKYC की समय सीमा 31 अगस्त 2022 तक बढ़ा दी गई है।

ऑनलाइन कैसे कराएं ईकेवाईसी

  • सबसे पहले pmkisan.gov.in की वेबसाइट पर जाएं।
  • यहां फॉर्मर कॉर्नर पर ईकेवाईसी विकल्‍प पर क्लिक करें।
  • अब अपने आधार नंबर, मोबाइल नंबर और कैप्‍चा कोड दर्ज करें।
  • इसके बाद रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी दर्ज करें।
  • सभी जानकारी देने के बाद आपका ई-केवाईसी पूरा हो जाएगा।
  • ईकेवाईसी पूरा होने पर आपको एसएमएस के द्वारा सूचना भी दी जाएगी।

क्‍यों जरूरी है ई-केवाईसी

केंद्र सरकार की ओर से पीएम किसान योजना के तहत ई-केवाईसी को अपडेट करना अनिवार्य किया गया है। इसका मतलब है कि अगर आप ई-केवाईसी को पूरा नहीं करते हैं तो आपको अगली किस्‍त नहीं मिलेगी। ई-केवाईसी की प्रक्रिया इस योजना के तहत फ्रॉड को रोकने के लिए शुरू की गई है, ताकि अपात्र किसान इसका लाभ न उठा सके।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट