कोरोना पॉजिटिव बीमाधारकों को मिलेगा कैशलेस ईलाज, अस्पताल मना करें तो यहां करें शिकायत

कोरोना मरीजों को बेहतर और टेंशन मुक्त ईलाज मिले इसके लिए इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (इरडा) ने कोरोना पॉजिटिव बीमाधारकों को कैशलेस ईलाज देने के निर्देश जारी किए हैं।

Coronavirus, COVID-19, BMC
कोरोना मरीज का इलाज करता एक डॉक्टर। (फाइल फोटो)

कोरोना संक्रमण के मामले 10 लाख के आंकड़े को पार कर चुके हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लोगों के बीच इस बीमारी का खौफ और बढ़ता जा रहा है। भारत ही नहीं बल्कि लगभग पूरी दुनिया इस भयंकर बीमारी की चपेट में है। बीमार होने पर सबसे ज्यादा चिंता आर्थिक मोर्चे पर होती है। कोई भी नहीं चाहता कि ईलाज के लिए भारी भरकम रकम चुकानी पड़े।

कोरोना मरीजों को बेहतर और टेंशन मुक्त ईलाज मिले इसके लिए इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (इरडा) ने कोरोना पॉजिटिव बीमाधारकों को कैशलेस ईलाज देने के निर्देश जारी किए हैं। इरडा ने अस्पतालों को साफ निर्देश दिए हैं कि कोरोना पॉजिटिव बीमाधारकों को इलाज के दौरान कैशलेस ईलाज की सुविधा मिले। इरडा के इस फैसले के बाद वे पॉलिसीधारक जिनकी पॉलिसी में कोरोना की बीमारी कवर होती है उन्हें बड़ी राहत मिलेगी।

इरडा ने सख्त निर्देश जारी करते हुए कहा है कि बीमा कंपनियां ऐसे अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई कर सकती हैं जो कोरोन के मरीजों के ईलाज के लिए पहले पैसा मांग रहे हैं। बीमाकर्ता उचित सरकारी एजेंसी में शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। ऐसे अस्पताल पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

मालूम हो कि कोरोना संकट के चलते कई लोगों की आमदनी प्रभावित हुई है। नौकरीपेशा लोगों को कंपनियां कम सैलरी दे रही है तो कई लोगों को तो नौकरी से ही निकाल दिया गया है। वे लोग जिनका खुद का बिजनेस है वह भी बुरी तरह प्रभावित है।

लिहाजा लोगों की जेब में पैसों की कमी है और उन्हें तत्काल कुछ रकम की जरूरत है। ऐसे में कोरोना के ईलाज को कवर करने वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ऐसे वक्त में आपके बेहद काम आ सकती है। संकट की घड़ी में आपको कैशलैस ईलाज मिल सकेगा। और ईलाज का खर्च बीमा कंपनी कवर करेगी।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट