ताज़ा खबर
 

…तो इन कारणों से पंखा नहीं देता है ठंडी हवा, ऐसे घर में ही कर सकते हैं सही

चिलचिलाती गर्मी में भीषण धूप इंसान के साथ मकान को भी तपा देती है। ऐसे में धूप सीधे छत पर पड़ती है, जिससे कमरे में फॉल सीलिंग गर्म रहेगी। ऐसे में पंखा अधिक ठंडी हवा नहीं दे पाता है, क्योंकि सीलिंग व दीवारें इस कारण तपी होंगी।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटो: Unsplash)

गर्मियों के दौरान घर में पंखा (सीलिंग फैन) सबसे सुकूनदेह चीज होती है। ठंडी हवा से ये आपका दिमाग भी कूल रखता है। मगर पंखों की सही देखभाल न की जाए, तो ये जवाब देने लगते हैं। कुछ वजहों के चलते ये बेबस हो खराबी के कगार पर आ खड़े होते हैं। ऐसे में आप कुछ सरल तरीके अपनाकर घर पर ही पंखा सही कर सकते हैं। न तो इसके लिए किसी इलेक्ट्रीशियन की जरूरत पड़ेगी। न किसी प्रोफेशनल ट्रेनिंग कोर्स की।

पंखा कहां लगाना है, सबसे पहले यह तय करें। कारण- अगर बिना कमरे के आकार व जरूरत के पंखा चुनेंगे, तो वह अधिक फायदेमंद न होगा। कमरा बड़ा हो तो दो पंखे लें। हॉल के लिए चार से पांच पंखे खरीदें, जबकि छोटे कमरे में अधिक पंखे लगाने से बचें। ये भी ध्यान दें कि पंखे के ब्लेड न तो अधिक बड़े हों और न ही ज्यादा छोटे।

चिलचिलाती गर्मी में भीषण धूप इंसान के साथ मकान को भी तपा देती है। ऐसे में धूप सीधे छत पर पड़ती है, जिससे कमरे में फॉल सीलिंग गर्म रहेगी। ऐसे में पंखा अधिक ठंडी हवा नहीं दे पाता है, क्योंकि सीलिंग व दीवारें इस कारण तपी होंगी। इस स्थिति में छत पर टीन या शेड लगाकर उसे धूप से बचाएं। छत की तराई करना भी अच्छा विकल्प हो सकता है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटो: Freepik)

सब कुछ ठीक होने के बावजूद कई बार पंखा बढ़िया हवा नहीं देता है। वजह- उसके ब्लेड्स का असंतुलित हो जाना है। दरअसल, साफ-सफाई के दौरान कई बार जोर लगने से ब्लेड्स मुड़ जाते हैं। चूंकि बढ़िया हवा फेंकने के लिए ब्लेड की सही पिच (कोण) होनी चाहिए। अगर पिच 12 डिग्री से कम होगी, तो वह घूमेगा। मगर अच्छी हवा नहीं देगा। ऐसे में ध्यान रखें कि ब्लेड अधिक मुड़ें न।

पंखे की हवा से आनंद लेने के अलावा उसका ख्याल भी रखें। सही समय पर ऑइलिंग करते रहें। साथ ही लगातार उसे लंबे समय तक न चलाएं। बीच-बीच में उसे भी आराम दें, ताकि गर्म मोटर को ठंडा होने का मौका मिले। साथ ही इससे बिजली की बचत भी होगी। पंखे की सफाई भी जरूरी है, क्योंकि धूल जमने से उसके ब्लेड्स भारी हो जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App