scorecardresearch

चार्जिंग पर लगी e-Scooter की बैट्री फटी, सोते वक्‍त 80 साल के बुजुर्ग की मौत; जानें- विस्‍फोट की वहज और सेफ्टी टिप्‍स

इलेक्ट्रिक स्‍कूटर की बैट्री फटने से कमरे में सो रहे 80 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। जबकि हादसे में परिवार के चार अन्‍य लोग घायल हो गए। पुलिस ने स्‍कूटर्स बनाने वाली कंपनी के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है।

e-Scooter Blast
चार्जिंग के दौरान e-Scooter की बैट्री फटने से एक व्‍यक्ति की मौत (फोटो- Express)

पिछले कुछ हफ्तों से इलेक्ट्रिक स्‍कूटर्स में आग लगने की कई घटनाएं सामने आई थीं। अब इसी तरह का एक और मामला तेलंगाना से आया है, जहां पर इलेक्ट्रिक स्‍कूटर की बैट्री फटने से कमरे में सो रहे 80 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। जबकि हादसे में परिवार के चार अन्‍य लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि चार्जिंग के दौरान स्‍कूटर में आग लगी और फिर अचानक ब्‍लॉस्‍ट हो गया। पुलिस ने स्‍कूटर्स बनाने वाली कंपनी के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है।

ई-स्‍कूटर की बैट्री में विस्‍फोट की घटना बुधवार को तेलंगाना के निजामाबाद जिले में हुआ। पुलिस ने बताया कि ब्‍लॉस्‍ट में मृतक 80 साल का बी रामास्‍वामी का बेटा प्रकाश रामास्‍वामी एक दर्जी है, जो पिछले एक साल से इलेक्ट्रिक स्‍कूटर का इस्‍तेमाल कर रहा था। निजामाबाद सहायक पुलिस आयुक्त ए वेंकटेश्वरलू ने बताया कि आईपीसी की धारा 304A (लापरवाही की वजह से मौत) के तहत हैदराबाद के स्‍टार्टअप और डीलर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

सब-इंस्पेक्टर साई नाथ के अनुसार, प्रकाश ने स्कूटर से बैट्री निकालकर करीब 12.30 बजे चार्ज करने के लिए रख दी। उनके पिता रामास्वामी, मां कमलाम्मा और बेटा कल्याण लिविंग रूम में सो रहे थे। करीब सुबह 4 बजे बैट्री फट गई, जिससे उसके पिता घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, आग की लपटों से लड़ते हुए प्रकाश और उनकी पत्नी कृष्णवेनी को भी मामूली चोटें आईं। अस्‍पताल में इलाज के दौरान रामास्वामी की हालत बिगड़ गई और हैदराबाद ले जाने के दौरान उसकी मौत हो गई।

क्‍यों लगती है ई-स्‍कूटर में आग

  • एक्‍सपर्ट बताते हैं कि ईवी में इस्‍तेमाल होने वाली सभी बैट्री प्‍लास्टिक कैबिनेट के साथ आ रही हैं। इससे जब ये गर्म होती है तो प्‍लास्टिक को पिघला देती हैं और फिर आग लगती है।
  • ज्‍यादातर ई-स्‍कूटर्स में हीट के सिंक का इस्‍तेमाल कम होता है और स्‍कूटर्स द्वारा इस्‍तेमाल किए जाने वाले लिथियम आयन बैट्री में हीट अधिक निकलता है। ऐसे में अगर हीट के सिंक का अधिक उपयोग होता है तो बैट्री कम गर्म होगी, लेकिन यह थोड़ी भारी हो सकती है।
  • चार्जिंग स्टेशन के दौरान जिन गाड़ियों में आग लग रही है उसका सबसे बड़ा कारण शॉर्ट सर्किट का होना है।
  • इलेक्ट्रिक स्‍कूटर्स को अधिक तापमान में रखना।

इन बातों को जरूर जानें

  • बैट्री को घर में ऐसी जगह पर चार्ज करें, जहां पर खुला स्‍पेस हो और बैट्री को कपड़े या लकड़ी पर न रखें।
  • बैट्री को ओभर चार्जिंग न करें, आप जितना इस्‍तेमाल करना चाहते हैं उतना ही चार्ज करें।
  • ई-व्हीकल पानी में भीग जाए तो चार्जिंग से बचें। अच्छी तरह सूखने और साफ करने के बाद भी उसे चार्जिंग पर लगाएं।
  • ड्राइविंग के दौरान आपको जरा सी भी महक आती है तो तुरंत वाहन रोक दें और सबसे पहले सीट को ओपन करके अंदर की हीट को बाहर निकालें।
  • वाहन का इंश्‍योरेंस कराकर रखें।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.