एंड्रॉयड का यह वर्जन चलाने वालों के लिए बुरी खबर! अब नहीं चला पाएंगे Google, Gmail और Youtube

वर्जन को चलाने वाले लोगों के लिए बुरी खबर सामने आई है। अगर आप भी ऐसे वर्जन को चलाते हैं तो यह जान जाइए कि अब आपके फोन में Google Map, Gmail और Youtube जैसी सर्विस नहीं चलेगी। इसके साथ ही इसपर Google कैलेंडर का भी प्रयोग नहीं हो पाएगा।

एंड्रॉयड का यह वर्जन चलाने वालों के लिए बुरी खबर! अब नहीं चला पाएंगे Google, Gmail और Youtube (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

एंड्रॉयड के एक पुराने वर्जन को चलाने वाले लोगों के लिए बुरी खबर सामने आई है। अगर आप भी ऐसे वर्जन को चलाते हैं तो यह जान जाइए कि अब आपके फोन में Google Map, Gmail और Youtube जैसी सर्विस नहीं चलेगी। इसके साथ ही इसपर Google कैलेंडर का भी प्रयोग नहीं हो पाएगा। कंपनी ने इसके पीछे की वजह बताते हुए कहा है कि यह वर्जन बहुत ही पुराना है और इसपर सुरक्षा का खतरा है, जिस कारण से इसपर ये सर्विस बंद की जा रही है।

Google का कहना है किएंड्रॉइड 2.3 वर्जन अब काफी पुराना हो गया है क्‍योकि अब एंड्रॉइड 12 तक लांच किया जाने वाला है, ऐसे में इस पुराने वर्जन में डाटा लीक का खतरा ज्‍यादा हो सकता है। जो स्मार्टफोन्स एंड्रॉइड वर्जन 2.3 वर्जन पर चलते है, उनपर Google Map, YouTube और Google कैलेंडर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। लेकिन इन सर्विसेज का इस्तेमाल आप चाहें तो अपने स्‍मार्टफोंस के एंड्रॉइड 3 में अपडेट कर इसका इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: Bharat Bandh की वजह से Indian Railways IRCTC की ये ट्रेनें प्रभावित, लिस्ट में देख लें कहीं आपकी भी गाड़ी तो नहीं है?

इन सर्विसेज के इस्‍तेमाल के लिए यह है तरीका
अगर आप एंड्रॉइड 2.3 वर्जन इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप गूगल के इन सर्विसेज का इस्‍तेमाल नहीं कर पाएंगे। इसके लिए आपको एंड्राइड 3 में शिफ्ट होना होगा। ऐसा करने पर ही आप YouTube, Gmail और, Google को इस्तेमाल कर पाएंगे। वहीं, अगर आप अपडेटेड वर्जन में अपग्रेड नहीं हो पा रहे हैं तो आपको नया स्मार्टफोन खरीदने की जरूरत है। आप चाहें तो कम कीमत वाला कोई स्मार्टफोन भी खरीद सकते हैं। आजकल मार्केट में कई स्मार्टफोन्स मौजूद हैं जो अपडेटेड वर्जन्स के साथ कम कीमत में उपलब्ध होते हैं।

यह भी पढ़ें: PC, Mac का बैक-अप, डॉक्यूमेंट ट्रांसलेशन और ये सारे फीचर्स हैं Google Drive के, सभी बातें शायद ही जानते होंगे आप

बता दें कि इससे पहले भी गूगल सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए कई सर्विसेज को वींडोज फोंस से बंद कर दिया है। इसका कारण गूगल ने बताते हुए कहा कि यहां डाटा लीक हो सकता है। लेकिन अगर यूजर अपने फोंस को अपडेट करता है तो ही वह इन सर्विसेज का लाभ ले पाएगा।

यह भी पढ़ें: Royal Enfield की पसंदीदा बाइक को अब आप दे सकते हैं मनचाहा अवतार, घर बैठे बस इस तरह कर सकते हैं रंग-रूप का चुनाव

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।