PNB खाताधारक ध्यान दें! ठगी से बचना है तो भूलकर भी न करें ये गलती

ग्राहक किसी अन-वेरिफाइड सोर्स से सॉफ्टवेयर डाउनलोड न करें। इन सॉफ्टवेयर पर मांगी जाने वाली पर्सनल डिटेल को भी साझा न करें।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः freepik)

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंकों में से एक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने अपने खाताधारकों को ऑनलाइन ठगों से सतर्क किया है। पीएनबी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के जरिए ग्राहकों से कहा है कि वे सोशल मीडिया पर फेक प्रोफाइल के चंगुल में फंसने से बचें।

ट्वीट में बैंक ने यह भी कहा है कि ग्राहक किसी अन-वेरिफाइड सोर्स से सॉफ्टवेयर डाउनलोड न करें। इन सॉफ्टवेयर पर मांगी जाने वाली पर्सनल डिटेल को भी साझा न करें।

अगले तीन से चार महीनों तक ये बैंक ग्राहकों को नहीं इश्यू कर पाएगा क्रेडिट कार्ड, जानें वजह

ऑनलाइन ठगी के बढ़ते मामलों के बीच बैंक ने कहा है कि पीएनबी कभी भी किसी एक्सटर्नल सॉफ्टवेयर जैसे ‘Quick Support’ को डाउनलोड करने के लिए नहीं कहता है। ‘Quick Support’ जैसे फर्जी सॉफ्टवेयर के जरिए ग्राहकों की पर्सनल डिटेल को झटपट हासिल किया जाता है।

पीएनबी के आधिकारिक हैंडल के समान प्रोफाइल बनाकर कुछ ठग ग्राहकों को ठगी का शिकार बना लेते हैं। ऐसे में बैंक के नाम पर फ्रॉड करने वाले जालसाजों से लोगों को सतर्क रहना चाहिए। साइबर ठग ग्राहकों को ठगने के लिए नए-नए तरीके अपनाते हैं।

जानकारी के अभाव में कई लोग इनके जाल में फंस जाते हैं और पलभर में अपना खाता खाली करवा लेते हैं और बाद में पछताते हैं। ऐसे में किसी को भी अपने बैंक खाते से जुड़ी जानकारियां मसलन ओटीपी, आधार, बैंक अकाउंट नंबर, एटीएम कार्ड का पासवर्ड या फिर क्रेडिट कार्ड का पासवर्ड न बताएं।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट