scorecardresearch

Atal Pension Scheme में अक्‍टूबर के बाद से निवेश नहीं कर सकते टैक्‍सपेयर, सरकार ने किया बड़ा बदलाव

Atal Pension Yojana में 1 अक्‍टूबर से इनकम टैक्सपेयर्स निवेश नहीं कर पाएंगे क्‍योंकि सभी आयकर दाता अटल पेंशन योजना (APY) योजना में निवेश करने के पात्र नहीं होंगे।

Atal Pension Scheme में अक्‍टूबर के बाद से निवेश नहीं कर सकते टैक्‍सपेयर, सरकार ने किया बड़ा बदलाव
Atal Pension Yojana में अब टैक्‍सपेयर्स नहीं कर पाएंगे निवेश (फोटो-Freepik)

सरकार ने एक सरकारी योजना को लेकर बड़ा बदलाव किया है। वित्त मंत्रलाय की ओर से जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि आयकर दाता अब इस सरकारी योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे। यह सरकारी योजना अटल पेंशन योजना, जिसमें 1 अक्‍टूबर से इनकम टैक्सपेयर्स निवेश नहीं कर पाएंगे क्‍योंकि सभी आयकर दाता अटल पेंशन योजना (APY) योजना में निवेश करने के पात्र नहीं होंगे।

नए आदेश में मंत्रालय की ओर से स्‍पष्‍ट करते हुए कहा गया है कि 1 अक्टूबर, 2022 से, कोई भी नागरिक जो आयकर दाता है या रहा है, APY में शामिल होने के लिए पात्र नहीं होगा। स्पष्टीकरण: इस खंड के प्रयोजन के लिए, अभिव्यक्ति ” आयकर दाता ” का अर्थ उस व्यक्ति से होगा जो समय-समय पर संशोधित आयकर अधिनियम, 1961 के अनुसार आयकर का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी है। यह नोटिफिकेशन वित्त मंत्रालय की ओर से बुधवार यानी 10 अगस्‍त 2022 को जारी किया गया।

नए प्रावधान के अनुसार, “यदि कोई ग्राहक, जो 1 अक्टूबर, 2022 को या उसके बाद शामिल हुआ है, बाद में आवेदन की तारीख को या उससे पहले आयकर दाता पाया जाता है, तो APY खाता बंद कर दिया जाएगा और जमा अब तक की पेंशन राशि प्रीमियम जमा करने वाले व्‍यक्ति को दे दी जाएगी। पीएफआरडीए के अध्यक्ष सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने कहा कि राष्ट्रीय पेंशन योजना (NPS) और अटल पेंशन योजना (APY)के लिए कुल ग्राहकों की संख्या 4 जून तक 5.33 करोड़ थी। 4 जून, 2022 तक, एनपीएस और एपीवाई के तहत एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 7,39,393 करोड़ रुपए था। अभी अटल पेंशन योजना के ग्राहकों की संख्या 4 जून तक बढ़कर 3.739 करोड़ हो गई है।

अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना पीएफआरडीए द्वारा प्रशासित भारत सरकार की गारंटीड पेंशन योजना है। यह योजना भारत के किसी भी नागरिक को 18-40 वर्ष के आयु वर्ग के बीच बैंक या डाकघर शाखाओं के माध्यम से शामिल होने की अनुमति देती है, जहां किसी के पास बचत बैंक खाता है। इस योजना के तहत, एक ग्राहक को न्यूनतम गारंटी पेंशन 1000 रुपए से 5000 रुपए 60 वर्ष की आयु से प्रति माह, उनके योगदान के आधार पर दिया जाता है। ग्राहक की मृत्यु के बाद ग्राहक के पति या पत्नी को समान पेंशन का भुगतान किया जाएगा और ग्राहक और पति या पत्नी दोनों के निधन पर, ग्राहक की 60 वर्ष की आयु तक जमा की गई पेंशन राशि नामांकित व्यक्ति को वापस कर दी जाएगी।

हर महीने जमा करना होगा 210 रुपए जमा

इस योजना में अधिक से अधिक फायदा लेने के लिए आपको जल्‍द से जल्‍द निवेश करना होगा, आप जितनी जल्‍दी इस योजना में निवेश करेंगे फायदा उतना ही अधिक होगा। अगर कोई व्यक्ति 18 साल की उम्र में अटल पेंशन योजना से जुड़ता है तो उसे 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 5000 रुपए मासिक पेंशन के लिए बस प्रति माह 210 रुपए जमा करने होंगे।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट