ताज़ा खबर
 

Atal Pension Yojana: सरकार भी करती है अंशदान, आपको मिला कि नहीं, ऐसे करें चेक

Atal Pension Yojana: सब्सक्राइबर्स घर बैठे-बैठे भी इसकी जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए ऑनलाइनल माध्यम भी उपलब्ध है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 11, 2019 5:45 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना (एपीवाई) में केंद्र सरकार भी अंशदान करती है। केंद्र सरकार के अधीन आने वाले नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) ट्रस्ट ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए अंशदान दिया है। ट्रस्ट ने कहा है कि इस योजना के सब्सक्राइबर्स सरकार द्वारा दिए जा रहे अंशदान की जानकारी अपने-अपने खातों से हासिल कर लें। ट्रस्ट ने 4 सितंबर को एक नोटिस भी जारी किया है।

नोटिस में कहा गया है कि ‘सरकार द्वारा दिए जा रहे अंशदान की जानकारी सब्सक्राइबर्स अपने खातों से हासिल कर लें।अंशदान चेक करने के लिए अगर किसी तरह की समस्या आती है तो परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर (PRAN) के साथ एनपीएस ट्रस्ट से शिकायत कर सकते हैं। इसके साथ ही grievances@npstrust.org.in पर भी ई-मेल कर सकते हैं।’ नोटिस में आगे कहा गया है कि ‘कोई भी सब्सक्राइबर्स 2015 से लेकर अब तक अपने खाते में डाली गई सरकारी अंशदान की जानकारी हासिल कर सकते है।’

बता दें कि अटल पेंशन योजना के तहत किसी भी व्यक्ति को एक हजार रुपए, दो हजार, तीन हजार, चार हजार और पांच हजार रुपए तक का मासिक पेंशन पाने का विकल्प है, जिसके लिए प्रीमियम राशि अलग-अलग है। अधिकतम 40 साल की उम्र तक इसका सदस्य बना जा सकता है और 60 साल की उम्र से पेंशन मिलना शुरू होगी। सरकार इस योजना में शामिल सब्सक्राइबर्स को पांच साल तक अंशदान दे रही है। यानि कि वे लोग जो कि 1 जून 2015 से 31 मार्च 2016 के बीच इस योजना से जुड़े हैं उन्हें अगले पांच साल तक अशंदान दिया जाएगा।

अंशदान और बैंलेंस चेक करने का तरीका: इस योजना से जुड़े सब्सक्राइबर्स एपीवाई सर्विस प्रोवाइडर के जरिए अपने अंशदान की जानकारी हासिल कर सकते हैं। अगर सब्सक्राइबर्स घर बैठे-बैठे भी इसकी जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए ऑनलाइनल माध्यम भी उपलब्ध है। सब्सक्राइबर्स एनपीए की वेबसाइट पर मौजूद इंटरफेस लिंक https://npslite-nsdl.com/CRAlite/EPranAPYOnloadAction.do पर क्लिक कर सकते हैं। यहां पर आपको PRAN और बैंक अकाउंट नंबर भरना होगा। इसके साथ ही आपको कैप्चा कोड भी दर्ज करना होगा। Submit पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अंशदान और अकाउंट बैंलेंस की जानकारी आ जाएगी।

इसके अलावा अगर आप बिना PRAN के भी अपनी डिटेल्स चेक कर सकते हैं। इसके लिए सब्सक्राइबर का नाम और अकाउंट नंबर की डिटेल भरनी होगी। डेट ऑफ बर्थ और Views for Subscriber में मौजूद विकल्पों में से किसी एक को चुनना होगा। इसके बाद कैप्चा कोड दर्ज करने के बाद Submit पर क्लिक करना होगा। आपके सामने सारी डिटेल्स होंगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 EPFO: आपके पीएफ के पैसे पर लग सकता है टैक्स! जान लें ये नियम
2 Airtel Xstream पर मिल रहा 10,000 फिल्मों और शो की सौगात, जानें कैसे देखें
3 PPF: 25 साल की नौकरी में इकट्ठा कर सकते हैं 1 करोड़ से रुपए ज्यादा, जानें पूरा हिसाब