ट्रेन में सफर के दौरान हुई कोई परेशानी? Rail Madad App के जरिए झटपट करें शिकायत

भारतीय रेल विश्व का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है,जिस पर प्रतिदिन लगभग दो करोड़ यात्री यात्रा करते हैं। इतने बड़े नेटवर्क पर यात्रियों की समस्याओं और शिकायतों को सुलझाने के लिए ‘रेल मदद’ प्लेटफॉर्म बनाया गया है।

कोरोना महामारी के कारण अभी सभी ट्रेनों का संचालन नहीं हो रहा है। Source: Express Photo by Deepak Joshi

Indian Railways, IRCTC, Rail Madad App: भारतीय रेलवे यात्रियों के सफर के अनुभव को बेहतर बनाने की कोशिश में नए-नए तरीके अपनाता रहा है। रेलवे ने टेक्नॉलजी के जरिए यात्रियों को कई सहुलियतें दी हैं। अगर आप रेलवे के सामान्य कोच में सफर के दौरान सफर करते हैं और आपकी समस्या की सुनवाई नहीं होती तो आप ‘रेल मदद एप’ का सहारा ले सकते हैं।

भारतीय रेल विश्व का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है,जिस पर प्रतिदिन लगभग दो करोड़ यात्री यात्रा करते हैं। इतने बड़े नेटवर्क पर यात्रियों की समस्याओं और शिकायतों को सुलझाने के लिए ‘रेल मदद’ प्लेटफॉर्म बनाया गया है। यात्रियों को समझ नहीं आता कि वे सफर के दौरान हुई परेशानी को किस तरह रेलवे तक पहुंचाएं।

भारतीय रेलवे ने दोबारा शुरू की ये सर्विस, लाखों यात्रियों को मिलेगा फायदा

इंटरनेट के इस जमाने में अब रेलवे तक अपनी शिकायत पहुंचाना बेहद आसान है। यात्री ‘रेल मदद एप’ पर जाकर अपने टिकट का नंबर दर्ज कर शिकायत कर सकते हैं। सफर के दौरान यात्री पानी, बिजली और साफ-सफाई के लिए शिकायत दर्ज करा करा सकते हैं। इसके अलावा आप अन्य किसी भी प्रकार की शिकायत इसके जरिए कर सकते हैं। अगर आप रेलवे के किसी कर्मचारी के व्यवहार या फिर काम के रवैये को लेकर शिकायत करना चाहते हैं तो भी इस एप की मदद से ले सकते हैं।

सफर के दौरान यात्री पानी, बिजली और साफ-सफाई के लिए शिकायत दर्ज करा करा सकते हैं। इसके लिए आपको एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा जिसमें आपको शिकायत संबंधी डिटेल, घटना की तारीख, कर्मचारी का नाम, घटनास्थल इत्यादि की जानकारी देनी होती है। फॉर्म में पर्सनल डिटेल्स, जैसे- नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल, पता इत्यादि की जानकारी देना आवश्यक होता है। आप इसमें अपनी शिकायत विस्तृत रूप में लिख सकते हैं। इसके साथ आपको जरूरी डाक्यूमेंट्स भी अटैच करने होंगे।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट