Aadhar Card Update: क्‍या आपको पता है घर – घर जाने वाला डाकिया भी कर सकता है आधार से जुड़ा यह काम, जानिए डिटेल

अगर आप इस बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपको यह बता दें कि अब बिना आधार सेंटर जाए या किसी तरह के समस्‍या के बिना भी आसानी से अपने घर से आधार कार्ड में अपने मोबाइल नंबर को अपडेट करा सकते हैं, यह काम आपके घर आने वाला डाकिया कर सकता है।

Aadhar Card Update: क्‍या आपको पता है घर – घर जाने वाला डाकिया भी कर सकता है आधार से जुड़ा यह काम, जानें डिटेल (File Photo)

घर-घर जाने वाला डाकिया चिट्ठियां लाने के अलावा भी बहुत से काम करता है। इसमें से कुछ काम आपके आधार कार्ड से भी जुड़े हुए हैं। आप बिना आधार सेंटर जाए भी आसानी से आधार कार्ड में अपने मोबाइल नंबर को अपडेट करा सकते हैं। यह काम आपके घर आने वाला डाकिया कर सकता है। इसके अलावा किसी तरह का अगर इसमें सुधार कराना चाहते हैं तो पोस्‍ट मास्‍टर की मदद से आप डाकघर से इसे सुधार करवा सकते हैं।

संचार मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा, “आईपीपीबी ऑनलाइन ने यूआईडीएआई के रजिस्ट्रार के रूप में आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए एक सेवा शुरू की है। जिससे अब एक निवासी आधार धारक अपने घर के दरवाजे पर डाकिया द्वारा आधार में अपना मोबाइल नंबर अपडेट करवा सकता है।” इसके लिए इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स और यूआईडीएआई डाकिया द्वारा मोबाइल नंबर अपडेट करने की अनुमति देंगे।

यह भी पढ़ें: Clubhouse का Music Mode फीचरः सीखें- किस तरह करतें हैं ऑन और इस्तेमाल?
यूआईडीएआई ने कहा कि इससे लोगों को मिलने वाली सुविधाएं बढ़ेंगी। अब आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए सेवा केंद्र नहीं जाना होगा। मोबाइल नंबर अपडेट हो जाने पर आधार से जुड़े कई काम ऑनलाइन किए जा सकते हैं। साथ ही कई सरकारी कल्याण सेवाओं का भी लाभ उठा सकते हैं। बता दें कि 31 मार्च, 2021 तक, UIDAI ने भारत के निवासियों को 128.99 करोड़ आधार नंबर जारी किए हैं।

डाकघर एक आधार सेवा केंद्र की तरह भी काम करता है। यहां आधार अपडेट करने से लेकर नया आधार कार्ड जारी करने तक का काम किया जाता है। यहां कोई भी अपने आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है। अगर आपके आसपास में कोई आधार सेवा केंद्र ओर डाकघर भी नहीं है तो आप ऑनलाइन जाकर भी आधार कार्ड संबंधी बहुत से काम कर सकते है। आधार कार्ड में सुधार करते वक्‍त ध्‍यान रखना चाहिए कि आप बार बार गलतियां न करें।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
जम्मू-कश्मीर: घट रहा बाढ़ का पानी, लाखों लोग को अब भी मदद की दरकार