7th Pay Commission: इस सरकार ने भी बढ़ा दिया DA, कर्मचारियों को एड-हॉक बोनस भी देगी

7th Pay Commission: तदर्थ बोनस की गणना वर्ष 2020-21 के लिए अधिकतम परिलब्धियों सात हजार रूपये तथा 31 दिन के माह के आधार पर की जाएगी।

7th Pay Commission, Rajasthan, Congress
7th Pay Commission: तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः unsplash)

7th Pay Commission Latest News in Hindi: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य कार्मिकों के महंगाई भत्ते में तीन प्रतिशत बढ़ोतरी और तदर्थ (एड-हॉक) बोनस देने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के अनुरूप ही राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते तथा पेंशनभोगियों को देय महंगाई राहत की दर में तीन प्रतिशत बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। अब राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनभोगियों को एक जुलाई 2021 से 31 प्रतिशत महंगाई भत्ता एवं महंगाई राहत दर देय होगी। पूर्व में राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनभोगियों को 28 प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया जा रहा था।

गहलोत सरकार के इस निर्णय का लाभ राजस्थान सिविल सेवा (पुनरीक्षित वेतन) नियम-2017 के आधार पर वेतन प्राप्त कर रहे करीब आठ लाख अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ ही चार लाख 40 हजार पेंशनभोगियों को भी मिलेगा। राज्य सरकार पर इस बढ़ोतरी से सालाना करीब 1,230 करोड़ रूपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। कर्मचारियों की एक जुलाई, 2021 से 30 सितंबर, 2021 तक बढ़े हुए महंगाई भत्ते की राशि उनके सामान्य प्रावधायी निधि, सामान्य प्रावधायी निधि-2004 या सामान्य प्रावधायी निधि-एसएबी खाते में जमा की जाएगी। माह अक्टूबर, 2021 के वेतन से इसका नकद भुगतान किया जाएगा।

इसी प्रकार सरकार ने प्रदेश के करीब छह लाख कर्मचारियों को दिवाली पर तदर्थ बोनस देने की भी मंजूरी दी है। यह लाभ राज्य सेवा के अधिकारियों (राजपत्रित) को छोड़कर पे-मैट्रिक्स लेवल-12 अथवा ग्रेड पे-4800 और इससे नीचे के लेवल का वेतन ले रहे राज्य कर्मचारियों को मिलेगा। यह बोनस पंचायत समिति, जिला परिषद के कर्मचारियों तथा कार्य प्रभारित कर्मचारियों को भी देय होगा। तदर्थ बोनस की गणना वर्ष 2020-21 के लिए अधिकतम परिलब्धियों सात हजार रूपये तथा 31 दिन के माह के आधार पर की जाएगी।

MP के कर्मियों के DA में 8% इजाफे का ऐलानः इसी बीच, मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को दीवाली का तोहफा देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बृहस्पतिवार को उनके महंगाई भत्ते में आठ प्रतिशत वृद्धि की घोषणा की। चौहान के बयान के मुताबिक, ‘‘सभी शासकीय सेवकों का महंगाई भत्ता आठ प्रतिशत बढ़ाया जाएगा। कर्मचारियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता नवंबर 2021 में भुगतान होने वाले, अक्टूबर 2021 के वेतन में जुड़कर मिलेगा। इसके साथ ही अब प्रदेश के अधिकारी-कर्मचारियों को मिलने वाला कुल महंगाई भत्ता 12 प्रतिशत से बढ़कर 20 प्रतिशत हो जाएगा।’’

केंद्र ने भी कर्मचारियों-पेंशधारकों का DA 3% बढ़ायाः वहीं, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुरुवार को केंद्रीय कर्मचारियों एवं पेंशनधारकों के महंगाई भत्ता और राहत में तीन प्रतिशत वृद्धि को मंजूरी दे दी। इससे 47.14 लाख कर्मचारियों और 68.62 लाख पेंशनधारकों को लाभ होगा। सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने संवाददाताओं को बताया कि यह वृद्धि एक जुलाई 2021 से प्रभावी होगी। इस वृद्धि के बाद महंगाई भत्ता और राहत बढ़कर 31 प्रतिशत हो गयी है। इस साल एक जुलाई को सरकार ने कर्मचारियों की तीन बकाया किस्तों की बहाली का अनुमोदन किया था तथा कर्मचारियों एवं पेंशनधारकों को देय महंगाई भत्ते/राहत को मूल वेतन/पेंशन के 17 प्रतिशत से बढ़ाकर 28 प्रतिशत करने का निर्णय किया था।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।