ताज़ा खबर
 

यूपी पंचायत चुनावः पत्नी के नामांकन के बीच पति बना आकर्षण का केंद्र, 25 लाख के सोने के आभूषण पहन पहुंचा; बोला- ये तो शौक है

उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल से पंचायत चुनाव शुरू हो रहे हैं। ऐसे में वोटरों को रिझाने के लिए प्रत्याशी तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं।

up panchayat election,लोगों को रिझािने के लिए लाखों की जूलरी पहन पहुंचा डीडीसी प्रत्याशी का पति। फोटो- न्यूज 24

यूपी पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान 15 अप्रैल को होना है। इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया जारी है। प्रत्याशी और उनके समर्थक लोगों को रिझाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। अकसर प्रत्याशी वोटरों के पांव पकड़ते नजर आते हैं। इसी बीच हरदोई के हरपाल पुर थाना क्षेत्र के रहने वाले राजेश मिश्रा ने लोगों को रिझाने के लिए अजीब हुलिया बनाया है। राजेश की पत्नी जिला पंचायत का चुनाव लड़ रही हैं। नामांकन के लिए पहुंचे मिश्रा ने गले में लगभग 25 लाख के ज़ेवर पहन रखे थे।

राजेश मिश्रा ने बताया, ‘मैं हरपाल पुर से पहले जिला पंचायत सदस्य रह चुका हूं। 2010 में मेरी पत्नी भी ग्राम प्रधान थीं। इस बार वह जिला पंचायत का चुनाव लड़ रही हैं।’ उन्होंने कहा कि साल 2005 से लगातार वह जेवर पहन रहे हैं। यह उनका शौक है। इतनी जूलरी पहनकर नामांकन के लिए उनका पहुंचना चर्चा का विषय है।

राजेश मिश्रा ने कहा, इसे पहनने की कोई वजह नहीं है, बल्कि शौक है। उन्होंने कहा कि इसका वजन करीब आधा किलो होगा।
बता दें कि उत्तर प्रदेश में चार चरणों में मतदान होना है। मतगणना 2 मई को होगी। चार चरणों में सभी ग्राम पंचायतों, पंचायत सदस्यों और जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव होगा। यहां इस समय अधिसूचना जारी है। नामांकन के लिए भी पांच से ज्यादा लोगों को अनुमति नहीं है। इसके साथ ही एक साथ पांच लोग ही चुनाव प्रचार के लिए निकल सकते हैं।

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के समय एक से एक कहानी सामने आती हैं। आगरा में जिला पंचायत का चुनाव लड़ रहे खेरागढ़ के रहने वाले हसनुराम अब तक 92 बार चुनाव लड़ चुके हैं। उनकी उम्र लगभग 74 साल है। 1985 में उन्होंने पहला चुनाव लड़ा था। वह ग्राम पंचायत से लेकर राष्ट्रपति पद तक का चुनाव लड़ चुके हैं। उनका कहना है कि वह चुनाव जीतने के लिए नहीं बल्कि हारने के लिए लड़ते हैं।

कोरोना काल में हो रहा पंचायत का चुनाव इस बार अलग है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए फैसला किया गया है कि सभी जिलों में धारा 144 लागू रहेगी और 54 से ज्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकेंगे। 45 साल से ऊपर के प्रत्याशियों को कोरोना की वैक्सीन भी लगवानी होगी।

Next Stories
1 क्या बंद होगा दो हजार वाला नोट? दो साल से नहीं हुई है छपाई
2 ‘मोदी सरकार के लिए खरीदार ही देव, किसान दुश्मन’, बोले कांग्रेस नेता तो BJP के संबित पात्रा का जवाब- आपके तो पहले से बिके हैं…MoU भेजूं?
3 धर्मेंद्र चुनाव लड़ने के लिए भर चुके थे हामी लेकिन हो रहा था पछतावा, शीशे में मार लिया था सिर; बाजपेयी की एक बात दिल को छू गई थी
ये पढ़ा क्या?
X