महाराष्ट्र चुनाव: मैदान में मुस्लिम उम्मीदवारों की संख्या अधिक

मुंबई। बड़े गठबंधनों के बिखरने के बाद विधानसभा चुनाव में पांच कोणीय मुकाबला देखने जा रहे महाराष्ट्र में इस बार वर्ष 2009 के चुनाव की तुलना में अधिक मुस्लिम उम्मीदवार मैदान में हैं । राज्य की 288 विधानसभा सीटों के लिए मनसे :महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना: सहित चार बड़े दलों द्वारा उतारे गए उम्मीदवारों की कुल […]

मुंबई। बड़े गठबंधनों के बिखरने के बाद विधानसभा चुनाव में पांच कोणीय मुकाबला देखने जा रहे महाराष्ट्र में इस बार वर्ष 2009 के चुनाव की तुलना में अधिक मुस्लिम उम्मीदवार मैदान में हैं ।

राज्य की 288 विधानसभा सीटों के लिए मनसे :महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना: सहित चार बड़े दलों द्वारा उतारे गए उम्मीदवारों की कुल संख्या 1,356 है, जबकि 2009 में यह संख्या 705 थी । इस बार मुस्लिम उम्मीदवारों की संख्या बढ़कर 45 हो गई है, जबकि 2009 में यह संख्या 19 थी ।\

चुनाव मैदान में किस्मत आजमा रहे कुल प्रत्याशियों में मुस्लिम उम्मीदवारों का प्रतिशत 3.3 है जो वर्ष 2009 के चुनाव में 2.7 प्रतिशत था।

कांग्रेस ने इस बार 19 मुस्लिम उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे हैं । इन चुनावों में किसी पार्टी के लिए मुस्लिम उम्मीदवारों की यह सबसे बड़ी संख्या है । वर्ष 2009 में कांग्रेस ने केवल 12 मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था । कांग्रेस ने उस समय राकांपा के साथ गठबंधन में 170 सीटों पर चुनाव लड़ा था ।

राकांपा ने अपने मुस्लिम उम्मीदवारों की संख्या बढ़ाकर 16 कर दी है । राकांपा इस साल 286 सीटों पर चुनाव लड़ेगी । वर्ष 2009 में पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन में 113 सीटों पर चुनाव लड़ा था और चार मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था ।

शिवसेना की पूर्व सहयोगी भाजपा ने दो मुस्लिम चेहरे उतारे हैं, जबकि वर्ष 2009 में पार्टी ने केवल एक मुस्लिम को चुनाव मैदान में उतारा था । भाजपा इस साल 257 सीटोंं पर चुनाव लड़ रही है ।

पिछले साल शिवसेना ने एक मुस्लिम उम्मीदवार को चुनाव मैदान में उतारा था और इस बार भी उसके 286 उम्मीदवारों में मुस्लिम प्रत्याशी एक ही है। वर्ष 2009 में भाजपा के साथ गठबंधन में शिवसेना ने 160 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

पिछले चुनाव में 143 सीटों पर लड़ने वाली मनसे इस बार 239 विधानसभा सीटोें पर चुनाव लड़ रही है । इसने पिछली बार के एक के मुकाबले इस बार सात मुस्लिम उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा है ।

मालेगांव निर्वाचन क्षेत्र में विभिन्न दलों के सर्वाधिक 17 मुस्लिम उम्मीदवार हैं।

साल 2009 में इस सीट पर जन सुराज्य शक्ति पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ कर मुफ्ती इस्माइल अब्दुल खालिक ने जीत दर्ज की थी, लेकिन इस साल वह राकांपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं ।

मालेगांव में सिर्फ एक गैर मुस्लिम उम्मीदवार राजेश मंगू मोरे हैं । वह बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं ।

राज्य की 288 विधानसभा सीटों पर 15 अक्तूबर को चुनाव होना है और मतगणना 19 अक्तूबर को होगी।

 

 

पढें Uncategorized समाचार (Uncategorized News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट