scorecardresearch

FIFA WC में हुआ जाकिर नाईक का स्वागत, इस्लाम का करेगा प्रचार; सोशल मीडिया पर भड़के यूजर्स ने दी ऐसी प्रतिक्रियाएं 

Zakir Naik in Fifa World Cup: क़तर में आयोजित फीफा वर्ल्ड कप में भारत का भगोड़ा जाकिर नाइक (Zakir Naik) आमंत्रित किया गया है, इस पर लोग अपना आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं।

FIFA WC में हुआ जाकिर नाईक का स्वागत, इस्लाम का करेगा प्रचार; सोशल मीडिया पर भड़के यूजर्स ने दी ऐसी प्रतिक्रियाएं 
भारत का भगोड़ा जाकिर नाइक (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

फीफा वर्ल्ड कप (Fifa world Cup) को लेकर कतर कई वजहों से सुर्ख़ियों में है। कई पत्रकारों को रिपोर्टिंग करने से रोकने से लेकर, लूटपाट की घटना को लेकर भी कई सवाल उठाये गए। अब भारत के भगोड़े जाकिर नाइक (Zakir Naik) को लेकर कतर की आलोचना हो रही है। जाकिर नाइक का फीफा वर्ल्ड कप में स्वागत किया गया है, जहां वह इस्लाम का प्रचार करता नजर आ सकता है। जैसे ही इस बात की जानकारी सामने आई सोशल मीडिया पर भारत के लोग आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं। इतना ही नहीं, ट्विटर पर जाकिर नाइक ट्रेंड भी होने लगा!

Fifa World में पहुंचा जाकिर नाइक

विवादित धर्मगुरु जाकिर नाइक (Controversial preacher Zakir Naik) कतर में मौजूद है, जो फीफा विश्व कप के दौरान धर्मिक व्याख्यान भी देगा। जाकिर नाइक के फीफा वर्ल्ड कप में शामिल होने को लेकर क़तर के कई लोगों ने ट्वीट भी किया है। भारत ने जाकिर नाइक को भगोड़ा घोषित किया हुआ है। उस पर मनी लॉन्ड्रिंग, आतंकवाद से संबिधित गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है।

सोशल मीडिया पर लोगों ने दिए ऐसे रिएक्शन

सोशल मीडिया पर तमाम लोग जाकिर नाइक के फीफा वर्ल्ड कप में आमंत्रित किए जाने पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एंकर सुधीर चौधरी (Anchor Sudhir Chaudhary) ने जाकिर नाइक का पुराना वीडियो शेयर कर लिखा है कि ज़ाकिर नाइक को इस्लामी प्रवचन देने के लिए #FIFAWorldCup के दौरान कतर में आमंत्रित किया गया है। लेकिन वह कहते रहे हैं कि इस्लाम में फुटबॉल ‘हराम’ (निषिद्ध) है। पत्रकार राहुल शिवशंकर (Rahul Shivshankar) ने लिखा कि जाकिर नाइक, नफरत फैलाने वाला भगोड़ा, जिसने एक बार पाकिस्तान में एक मंदिर हमले को सही ठहराते हुए कहा था कि “इस्लामिक राष्ट्रों को मंदिर निर्माण पर प्रतिबंध लगाना चाहिए” वर्ल्ड कप के दौरान कतर में है। एक तरफ जहां भारत सरकार ने नूपुर (Nupur Sharma) की टिप्पणी पर खेद जताया, वहीं कतर को हिंदुओं और अन्य धर्मों का अपमान करने वाले व्यक्ति से प्रेम करने में कोई गुरेज नहीं है।

@Hardism ट्विटर यूजर ने लिखा कतर ने अरब जगत में नूपुर शर्मा की नाराजगी का नेतृत्व किया था। जो अब खुले तौर पर विश्व कप में जाकिर नाइक की परेड कर रहा है, एक ऐसा व्यक्ति जो नफरत फैलाने वाले भाषण और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए भारत में भगोड़ा है। नूपुर शर्मा को लेकर कतर ने एक बयान जारी किया था और हमारे राजदूत को तलब किया, हम ऐसा कभी नहीं करेंगे। @TrulyMonica यूजर ने लिखा कि वांछित अपराधी जाकिर नाइक फीफा विश्व कप के दौरान प्रचार करने के लिए कतर में है। पेंटर एमएफ हुसैन को भी कतर ने शरण दी थी नूपुर शर्मा के बयानों को लेकर भारत पर हमले का नेतृत्व कतर ने किया था, बार-बार उकसावे के बावजूद भारत कतर को क्यों नहीं तलब कर रहा है?

सोशल मीडिया पर तमाम लोगों ने जाकिर नाइक को आमंत्रित किए जाने पर कतर की आलोचना की है। कुछ लोगों ने तो यह तक कह दिया है कि फीफा वर्ल्ड कप को अपने यहां आयोजित कराने के पीछे कतर का मकसद ही खेल के जरिये इस्लाम को बढ़ावा देना और अपनी छवि सुधारना है। गौरतलब है कि फीफा वर्ल्ड कप (Fifa Wordl Cup) पहली बार किसी मुस्लिम देश में हो रहा है।

भारत के गृह मंत्रालय (Home Ministry Of India) ने 17 नवंबर 2017 को जाकिर नाइक के NGO इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (Islamic Research Foundation) पर 5 साल के लिए बैन लगाया था। इस बैन को सरकार ने फिर पांच साल के लिए बढ़ा दिया है, अब 2026 तक इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (Islamic Research Foundation) पर बैन लगा रहेगा। नाइक पर युवाओं को आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के लिए प्रेरित करने, मनी लोंड्रिंग, नफरत फैलाने जैसे कई आरोप हैं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 22-11-2022 at 10:09:56 am
अपडेट