योगी आदित्यनाथ ने लिखा जीवन कैसे जियें, अखिलेश यादव का उसी अंदाज में पलटवार, बोले- अब तो भाजपाइयों के प्रवचन तक अच्छे नहीं लगते

यूपी सीएम ने लिखा कि हम जीवन में कितने दिन जी रहे हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है। हमने कैसा जीवन जिया, यह महत्वपूर्ण होता है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फोटो सोर्स – पीटीआई)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों में लगी पार्टियां एक दूसरे पर राजनीतिक हमले करने में भी पीछे नहीं है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव निशाना साधते नजर आ रहे हैं। सीएम योगी ने एक ट्वीट के जरिए जीवन कैसे जियें को बताया तो सपा प्रमुख ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपाइयों के तो प्रवचन तक भी अच्छे नहीं लगते।

दरअसल यूपी सीएम ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा कि हम जीवन में कितने दिन जी रहे हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है। हमने कैसा जीवन जिया, यह महत्वपूर्ण होता है। सीएम योगी के इसी ट्वीट पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बिना नाम लिए इशारों में ही पलटवार करते दिखाई दिए। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि महत्वपूर्ण ये नहीं है कि हमने कैसा जीवन जिया, महत्वपूर्ण ये है कि हमारी वजह से लोगों ने कैसा जीवन जिया।

उन्होंने आगे लिखा कि भाजपा ने लोगों का जीना दूभर कर दिया है। अब तो भाजपाइयों के प्रवचन तक अच्छे नहीं लगते, उनके दिए गये वचन की तो क्या ही बात करें। ये वापस लौटने की तैयारी है। अखिलेश यादव और योगी आदित्यनाथ के यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे। इन दोनों नेताओं के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स अपनी प्रतिक्रिया देने लगे।

एक टि्वटर यूजर ने योगी आदित्यनाथ के ट्वीट पर मजा लेते हुए लिखा कि हम वास्तव में कितनी नियुक्ति दे रहे हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है। हमने विज्ञापन कितना दिखाया, यह महत्वपूर्ण होता है। सीएम योगी के ट्वीट पर राजीव निगम नाम के ट्विटर यूजर लिखते हैं कि आपने जीवन कैसा जिया यह महत्वपूर्ण नहीं है, आप की जनता कैसा जीवन जी रही है यह महत्वपूर्ण है… बाकी आप तो महाराज हैं, अच्छा ही जी रहे होंगे।

@ianand999 टि्वटर हैंडल से अखिलेश यादव के ट्वीट पर कमेंट किया गया कि महत्वपूर्ण यह भी नहीं है कि आपने कितनी उद्घाटन किये। भोजपुरिया है कि काम कितना हुआ अखिलेश यादव जी। एक टि्वटर यूज़र सपा प्रमुख के ट्वीट पर ही लिखते हैं कि भाजपा खत्म या समाजवादी खत्म यह निर्णय जनता पर छोड़ दीजिए, आप तो सिर्फ जनता को मुलायम परिवार की तरह बिना कोई कामकाज किए अरबपति बनने का नुस्खा बता दीजिए, ताकि हमारा जीवन भी आपकी तरह सुखमय हो जाए।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट