अपने सात पुश्तों का लेखा-जोखा तैयार करना हो तो वह लड़ जाए चुनाव – जातिगत राजनीति पर बोले योगी आदित्यनाथ, एंकर से कहा आप भी लड़ जाइए

सीएम योगी ने मुस्कुराते हुए कहा कि कांग्रेस के नेता सलमान खुर्शीद ने इसको लेकर साफ बता दिया है कि ‘अब्बा जान’ किसको कहते हैं।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Source – PTI)

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में एक बार फिर बीजेपी की सरकार आने वाली है। उनसे एक इंटरव्यू के दौरान जातिगत समीकरण को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि अगर जिसको अपने सात पुश्तों का लेखा-जोखा तैयार करना हो वह चुनाव लड़ जाए। इसके साथ ही उन्होंने एंकर को भी कहा कि आप भी चुनाव लड़ लीजिए।

न्यूज़ 24 चैनल पर यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर एक चर्चा हो रही थी। जिसमें यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से एंकर अनुराधा प्रसाद ने सवाल किया कि आप लोग अभी तक कह रहे थे कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और अब योगी जी ‘अब्बा जान’ पर आ गए हैं? ये ‘अब्बा जान’ कौन है? इस सवाल पर सीएम योगी ने मुस्कुराते हुए कहा कि कांग्रेस के नेता सलमान खुर्शीद ने इसको लेकर साफ बता दिया है कि ‘अब्बा जान’ किसको कहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोगों को मुस्लिम वोट चाहिए लेकिन उन्हें ‘अब्बा जान’ से परहेज है।

उनसे इस इंटरव्यू के दौरान असदुद्दीन ओवैसी के यूपी चुनाव में आने पर सवाल किया गया तो उन्होंने साफ तौर पर कहा कि लोकतंत्र में सभी को चुनाव लड़ने का अधिकार है। मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा।

अनुराधा प्रसाद ने उनसे सवाल पूछा कि यूपी में जातिगत राजनीति हो रही है। सभी पार्टियां जातियों के आधार पर अपना राजनीतिक समीकरण साध रही हैं? आपको जाति के आधार पर चुनाव में नहीं देखा जाता था लेकिन इस विधानसभा चुनाव में आपकी भी जाति पर चर्चा हो रही है इसको लेकर आप क्या सोचते हैं?

इस सवाल पर योगी आदित्यनाथ में हंसते हुए कहा कि मुझे लगता है कि अगर किसी को अपने सात पुश्तों का लेखा-जोखा तैयार करना हो तो उसे चुनाव लड़ जाना चाहिए। उन्होंने एंकर अनुराधा प्रसाद से कहा कि मैं तो आपसे भी कह रहा हूं कि आप भी पटना से चुनाव लड़ लीजिए। आपको पता लग जाएगा कि सब एक – एक चीज को बाहर निकाल कर रख देंगे।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट