ताज़ा खबर
 

विंग कमांडर अभिनंदन की नकली फोटो लगा मोदी का प्रचार कर रहे बीजेपी समर्थक

उल्लेखनीय है कि भारतीय वायुसेना का कोई भी अधिकारी किसी भी राजनैतिक पार्टी के लिए चुनाव प्रचार नहीं कर सकता है।

विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर, जब वह पाकिस्तान से भारत लौटे थे। (PTI Photo)

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक पोस्ट काफी वायरल हो रही है। इस पोस्ट में बताया गया है कि विंग कमांडर अभिनंदन खुलकर भाजपा के समर्थन में आ गए हैं। इस पोस्ट के साथ विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर भी है, जिसमें उनके गले में भगवा रंग का कपड़ा भी दिखाई दे रहा है, जिस पर भाजपा का चुनाव चिन्ह दिखाई दे रहा है। अब खुलासा हुआ है कि इस पोस्ट में दिखाई दे रही विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर फर्जी है। दरअसल तस्वीर में दिखाई दे रहा शख्स विंग कमांडर अभिनंदन नहीं है, बल्कि उनके जैसा दिखने वाला कोई अन्य शख्स है। यह पोस्ट नमो बेस्ट पीएम ऑफ इंडिया नामक फेसबुक पेज से शेयर किया गया है। माना जा रहा है कि भाजपा के किसी समर्थक द्वारा भाजपा के प्रचार के लिए यह फर्जीवाड़ा किया गया है। Alt News पर यह खबर पहले प्रकाशित की गई है।

बता दें कि इस पोस्ट के साथ लिखा है कि ‘विंग कमांडर अभिनंदन जी ने खुलेआम बीजेपी का समर्थन किया है और वोट भी डाला है। मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए इनका कहना है कि वर्तमान में मोदी जी से अच्छा प्रधानमंत्री कोई दूसरा नहीं हो सकता। पोस्ट के आखिर में लिखा है कि आज अभिनंदन जिंदा वापस भी आया और बीजेपी को वोट भी डाला।’ कई भाजपा समर्थक फेसबुक पेज और ग्रुप द्वारा इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। हालांकि जब इस वायरल पोस्ट की तस्वीर का विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर के साथ मिलान किया गया, तो इस फर्जी पोस्ट का खुलासा हुआ। दरअसल विंग कमांडर अभिनंदन की होंठ के नीचे एक काला तिल है, जबकि फेसबुक पोस्ट वाली तस्वीर में यह गायब है।

wing commander abhinandan इस तस्वीर से कर सकते हैं तुलना।

इसके अलावा फर्जी तस्वीर में विंग कमांडर अभिनंदन जैसे दिखने वाले शख्स ने अपनी आंखों और बालों को चश्मे और कैप से ढका हुआ है, ताकि लोग इस फर्जीवाड़े को आसानी से पहचान ना सके। साथ ही विंग कमांडर का घर तमिलनाडु में है, जहां पहले चरण के तहत वोट डाले ही नहीं गए हैं। कद काठी को देखकर भी अंदाजा लगाया जा सकता है कि वायरल पोस्ट में जो शख्स दिखाई दे रहा है, वह विंग कमांडर अभिनंदन नहीं है।

एअर फोर्स में भी हैं सख्त नियमः उल्लेखनीय है कि भारतीय वायुसेना का कोई भी अधिकारी किसी भी राजनैतिक पार्टी के लिए चुनाव प्रचार नहीं कर सकता है। भारतीय वायुसेना के एअर फोर्स रूल, 1969 के तहत वायुसेना के कर्मचारियों को किसी भी राजनीतिक गतिविधि में हिस्सा लेने की मनाही है।

wing commander abhinandan सोशल मीडिया पर फर्जी अभिंनंदन की तस्वीर इसी पेज से शेयर की गई है।

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश के आतंकी ठिकानों पर बमबारी की थी। इसके अगले ही दिन पाकिस्तानी वायुसेना ने भी भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास किया। लेकिन भारतीय वायुसेना की मुस्तैदी के चलते पाकिस्तान के फाइटर जेट को वापस लौटना पड़ा था। इस दौरान विंग कमांडर अभिनंदन और पाकिस्तान के फाइटर जेट के बीच आसमान में डॉग फाइट हुई। इस डॉग फाइट में विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान का एक एफ-16 मार गिराया था। हालांकि इस लड़ाई में खुद उनका फाइटर जेट तबाह हो गया था और वह पैराशूट की मदद से पीओके में उतरे थे। जहां से पाकिस्तान द्वारा विंग कमांडर अभिनंदन को हिरासत में ले लिया गया था। लेकिन अन्तर्राष्ट्रीय दबाव के चलते 2-3 दिन बाद पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा करते हुए भारत को सौंप दिया था।

Next Stories
1 सद्भाव: रामनवमी पर आयोजित किया गया था जुलूस, मस्जिद के पास राम भक्तों को मुस्लिम पिला रहे थे जूस!
2 यौन उत्पीड़न का शिकार हुईं पाकिस्तानी मूल की यह नेता, बस में सामने बैठा शख्स कर रहा था मास्टरबेट
3 अमित शाह बोले- हिंदुओं, सिखों और बौद्ध को छोड़ सारे घुसपैठियों को खदेड़ देंगे, सरदार का जवाब वायरल
ये पढ़ा क्या?
X