आंदोलन को कुचलने के लिए भेजे गए थे गुंडे – लाइव शो में बोले किसान नेता, कहा – भीड़ भेजोगे, गुंडे मारे जाएंगे

लखीमपुर खीरी में हुई घटना के बाद से ही कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। जिसको लेकर तमाम प्रकार के सवाल उठाए जा रहे हैं।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
लखीमपुर प्रकरण के चलते बीजेपी की हुई खासी किरकिरी (Photo Source – PTI)

लखीमपुर घटना को लेकर एक न्यूज़ चैनल पर डिबेट के दौरान किसान नेता ने एंकर के एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि आंदोलन को कुचलने के लिए गुंडे भेजे गए थे। इसके साथ ही उन्होंने कहा अगर इस तरह गुंडे भेजे जाएंगे तो वह गुंडे मारे भी जाएंगे।

न्यूज़ 18 इंडिया के शो ‘आर – पार’ में चल रही इस डिबेट के दौरान लखीमपुर खीरी में हुई घटना पर अपना पक्ष रखते हुए किसान नेता ने कहा कि भीड़ को कुचलने के लिए गुंडे भेजे गए थे, उन्होंने भीड़ को कुचल दिया। जब उनकी गाड़ी के नीचे लोग फंस गए उनको निकलने का रास्ता नहीं मिला। भीड़ ने गुंडों को मार दिया।

उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा भीड़ भेजोगे गुंडे मारे जाएंगे… भीड़ भेजोगे तो गुंडे कुचले जाएंगे। उनकी इस बात पर एंकर ने सवाल पूछा कि मतलब जो 5 मारे गए। आप उनके साथ नहीं है जो 4 मारे गए हैं, उनके साथ हैं। इसके साथ ही उन्होंने सवाल किया कि 9 लोगों की मृत्यु हुई है उन सभी की बात क्यों नहीं कर रहे हैं? आप केवल 4 लोगों की बात कर रहे हैं उन 5 लोगों की बात क्यों नहीं कर रहे हैं? वह किसी के बच्चे नहीं थे क्या?

उनकी बात पर किसान नेता पुष्पेंद्र चौधरी ने कहा कि अगर आपको ही बोलते रहना है तो मुझे बोलने के लिए क्यों बुलाते हैं? आप केवल मोहसिन रजा को ही बार बार बुला रहे हैं। जिन्होंने गुंडे पाल रखे हैं। यह आपको नहीं दिखाई देते हैं? इस बात पर एंकर अमीश देवगन ने कहा, मोहसिन रजा गुंडे हैं। इस सवाल का जवाब नहीं देंगे। दूसरी तरफ किसान नेता कुछ बोलने लगते हैं तो अमीश देवगन कहते हैं आप इतने व्याकुल क्यों हो रहे हैं?

इस दौरान एक दूसरे से तू तू मैं मैं होती भी नजर आई। जानकारी के लिए बता दें कि लखीमपुर खीरी में उस समय हिंसा हो गई थी जब कथित तौर पर केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा की गाड़ी ने प्रदर्शन कर रहे किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ा दी। इस मामले में विपक्ष योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोल रहा है। विपक्ष के कई नेताओं ने लखीमपुर खीरी जाकर पीड़ित परिवार से मुलाकात भी की है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।