ताज़ा खबर
 

वीडियो: आलू कहने पर ऐसा चिढ़े कि बल्ला लेकर दर्शक को मारने पवेलियन में घुस गए थे इंजमाम

16वें ओवर में कुछ ऐसा हुआ कि इंजमाम उल हक आपा खो बैठे और बल्ला ले क्राउड में घुस गए।

ये वाकया साल 1997 में हुए भारत बनाम पाकिस्तान मैच के दौरान का है।

भारत-पाकिस्तान का मैच हमेशा से ही हाईवोल्टेज रहा है। इस दौरान शोएब अख्तर ही नहीं बल्कि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक भी भारत के खिलाफ मैचों के दौरान अक्सर चर्चा में रहे हैं। अपने वनडे करियर में 40 बार रन आउट होने वाले इंजमाम ने भारत के खिलाफ मैच के दौरान गुस्से की हद ही पार कर दी थी, इंजमाम बल्ला लेकर पवेलियन के क्राउड में घुस गए थे। हम बात कर रहे हैं साल 1997 में सहारा कप के दौरान की। आइए बताते हैं आखिर क्या था पूरा मामला।

दरअसल ये वाकया साल 1997 में हुए भारत बनाम पाकिस्तान मैच के दौरान का है। सहारा कप का दूसरा मैच कनाडा के टोरेंटो क्रिकेट ग्राउंड में चल रहा था। इस मैच में पाकिस्तान टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को जीत के लिए 117 रन का टारगेट दिया था। अब बारी पाकिस्तान टीम की फील्डिंग की थी। 15 ओवर बीत चुके थे, सब सही चल रहा था लेकिन 16वें ओवर में कुछ ऐसा हुआ कि इंजमाम उल हक आपा खो बैठे और बल्ला ले क्राउड में घुस गए।

हुआ कुछ यूं था कि पवेलियन में बैठे कुछ भारतीय क्रिकेट समर्थकों ने इंजमाम को आलू और मोटू कहकर चिढ़ाया था। क्राउड की इस हरकत को इंजमाम बर्दाश्त नहीं कर पाए और आपा खो बैठे। इंजमाम आलू और मोटू सुनते ही आग बबूला हो गए। पहले तो इंजमाम ने ग्राउंड से ही क्राउड में मौजूद उन लोगों को कुछ कहा लेकिन देखते ही देखते इंजमाम बल्ला लेकर उस शख्स के पास पहुंच गए जो उन्हें आलू कह रहा था। इंजमाम और क्राउड के बीच अच्छा-खासा ड्रामा हो गया था। यहां तक कि बात हाथापाई तक भी पहुंच गई थी।

इसके बाद इंजमाम उल हक को गुस्से में क्राउड के साथ हाथापाई करता देख पहले तो क्राउड में मौजूद कुछ लोगों ने हटाया और बाद में समय रहते पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने इंजमाम को समझाया और वहां से वापस क्रिकेट ग्राउंड में लेकर आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App