West Bengal CM Mamta Banarjee is wooing BJP Shatrughan Sinha to Fight 2019 Elections against me says Union Minister Babul Supriyo - केंद्रीय मंत्री का ट्वीट- 2019 में मेरे खिलाफ शत्रुघ्न सिन्हा को उतार सकती हैं ममता बनर्जी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री का ट्वीट- 2019 में मेरे खिलाफ शत्रुघ्न सिन्हा को उतार सकती हैं ममता बनर्जी

बाबुल सुप्रियो की इस टिप्पणी से पहले खबरें आ रही थीं कि शत्रु साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को करारा झटका दे सकते हैं। खुद शॉटगन ने इस बात को हवा देते हुए कहा था, "मेरे पास अन्य पार्टियों के ऑफर हैं। मैं बीजेपी में रहूं या किसी और जगह, यह मायने नहीं रखता। मैं निर्दलीय भी लड़ूगा, जिसका मुझे फर्क नहीं पड़ेगा।"

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस पर सोशल मीडिया के जरिए तंज कसा है। (फोटोः फेसबुक)

केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से सांसद बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 2019 के चुनाव में उनके खिलाफ बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा को मैदान में उतार सकती हैं। उन्हें यह बात जानकर हंसी आती है।

सुप्रियो की इस टिप्पणी से पहले खबरें आ रही थीं कि शत्रु साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को करारा झटका दे सकते हैं। खुद शॉटगन ने इस बात को हवा देते हुए कहा था, “मेरे पास अन्य पार्टियों के ऑफर हैं। मैं बीजेपी में रहूं या किसी और जगह, यह मायने नहीं रखता। मैं निर्दलीय भी लड़ूगा, जिसका मुझे फर्क नहीं पड़ेगा।”

ताजा मामले में मंगलवार (22 मई) को सुप्रियो ने एक ट्वीट किया। लिखा, “ये अफवाहें सुनकर हंसी आती है कि शत्रुघ्न सिन्हा जी को टीएमसी के टिकट पर आसनसोल से 2019 का चुनाव लड़ाने के लिए मनाया जा रहा है।”

याद दिला दें कि शत्रुघ्न बीजेपी में रहकर पार्टी के खिलाफ बयान देते रहते हैं। नीतियों की आलोचना करते हैं। बीते दिनों वह पश्चिम बंगाल की सीएम से भी मिले थे। यहीं नहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ क्षेत्रीय ताकतों को एक करने को लेकर उन्होंने ममता की सराहना भी की थी।

बीजेपी के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा अपनी पार्टी से लंबे वक्त से खफा चल रहे हैं। (फाइल फोटो)

सिन्हा यह भी कह चुके हैं कि वह एनडीए सरकार के बनने से ही उससे आहत हैं। हालांकि, विस्तार से पूछे जाने पर उन्होंने जवाब दिया था, “वह मेरे लोग हैं। मैं उनके बर्ताव पर क्या बोलूं। नहीं बोल सकता। मेरी पार्टी को मालूम है कि मैं आहत हूं। अभी से नहीं बल्कि सरकार बनी थी, तब से।”

वैसे यह पहला मौका नहीं था बाबुल ने टीएमसी पर निशाना साधने का प्रयास किया हो। पश्चिम बंगाल में बीते दिनों हुए पंचायत चुनाव के दौरान उन्होंने कहा था कि टीएमसी ने चुनाव को मजाक बनाकर रखा दिया है, जिसके कारण देश भर में उसकी किरकिरी हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App