ताज़ा खबर
 

VIDEO: भारत के इस स्कूल के बच्चों के पास है दोनों हाथों से एकसाथ लिखने का अनोखा टैलेंट, दुनिया में है अजूबा

अनोखे बच्चों का यह स्कूल मध्य प्रदेश के संगरौली जिले में स्थित है। इस स्कूल में बच्चों के 45 मिनट की क्लास में 15 मिनट दोनों हाथ से लिखने की कला विकसित करने के लिए है।

भारत के इस स्कूल के बच्चों में है दोनों हाथ से लिखने की काबिलियत। (Photo Source: Youtube)

दुनिया में अधिकतर लोग होते हैं जो राइट हैंड (दांए हाथ से काम करने वाला) से काम करते हैं। क्या आपको पता है कि केवल दस प्रतिशत लोग ऐसे होते हैं जो बाएं हाथ (लेफ्ट हैंड) से काम करते हैं। लेफ्ट हैंड का इस्तेमाल करने वालों में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और टॉम क्रूज जैसी शख्सियत शामिल है। लेकिन ऐसे लोग बहुत ही कम हैं, जिनके अंदर दोनों हाथों से लिखने की क्षमता होती है। दोनों हाथों से लिखने वाली संख्या कुल जनसंख्या की 10 प्रतिशत है। आपको जानकर हैरानी होगी है कि भारत में एक ऐसा स्कूल है जहां 300 बच्चे हैं और सभी दोनों हाथों से लिखते हैं। इनमें से कुछ स्टूडेंट ऐसे हैं जो कि एक समय में दोनों हाथों से अलग-अलग भाषा लिखने की दक्षता रखते हैं।

अनोखे बच्चों का यह स्कूल मध्य प्रदेश के संगरौली जिले में स्थित है। इस स्कूल में बच्चों के 45 मिनट की क्लास में 15 मिनट दोनों हाथ से लिखने की कला विकसित करने के लिए है। यह प्रैक्टिस बच्चों को नई भाषा सीखाने के साथ ही एक समय पर दो भाषाओं को एकसाथ लिखने में मदद करते हैं। इस स्कूल की स्थापना पूर्व सैनिक वीपी शर्मा ने भारत के पहले राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद के सम्मान में की थी। इसकी स्थापना साल 1999 में किया गया था। इस स्कूल के बच्चों की असाधारण क्षमता को देखते हुए दक्षिण कोरियाई शोधकर्ताओं यहां आ चुका है और दो सालों तक बच्चों का निरीक्षण कर चुके हैं।

दोनों हाथों से लिखने वाले बच्चों के इस स्कूल का एक वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में बच्चों को पढ़ते और दोनों हाथों से लिखते हुए दिखाया गया है। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि बच्चे तेजी के साथ लिखते हुए दिखाया गया है। इस स्कूल के सभी बच्चे इसी तरह से लिखते हुए नजर आ रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App