ताज़ा खबर
 

मुसलमानों के खिलाफ हिंसा के झूठे ट्वीट पर कानूनी कार्रवाई के डर से सागरिका घोष ने डिलीट किए ट्वीट, मांगी माफी

खुद सीनियर पत्रकार मधुकिश्वर ने ट्विटकर साफ कहा कि अगर सरकार एक्शन नहीं लेती है तो वो खुद पुलिस स्टेशन जाकर सागरिका घोष के खिलाफ केस दर्ज करेंगी।

सागरिका कई चैनलों से जुड़ी रही हैं और टीवी पत्रकार राजदीप की पत्नी हैं।

टीवी जर्नलिस्ट सागरिका घोष ट्विटर पर काफी एक्टिव है। सागरिका कई मुद्दो पर अपनी बात खुलकर ट्विटर पर रखती है। कई बार उन्हें भारी आलोचना का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन इसबार अपने ट्वीट के चलते ना सिर्फ उन्हें शर्मिंदगी उठानी पड़ी बल्कि उन्होंने सार्वजनिक रूप से माफी मांग कर अपना ट्वीट वापस लिया। सागरिका ने कुछ दिनो पहले एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि पूरे देश में भीड़ मुसलमानों को मार रही है। और कहीं भी न्याय नहीं है।

उनके इस ट्वीट पर लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए मुंबई पुलिस और गृह मंत्रालय को इस पर कार्रवाई करने के लिए कहा। माना जा रहा है उनका इशारा झारखंड में भीड़ द्वारा मारे गए लोगों के ऊपर था। दो अलग अलग घटनाओं में बच्चा चोर समझकर 7 लोगों की पीट पीट कर हत्या कर दी थी। इस घटना में मरने वाले में 4 मुस्लिम और 3 हिन्दू शामिल थे। लेकिन उस हत्या को सांप्रदायिक रंग देने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की जाने लगी।

भारतीय कानून में दो सांप्रदाय के बीच टेंशन बढ़ाने, झूठी सांप्रदायिक अफवाहों को बढ़ाने के खिलाफ कार्रवाई का विधान है। खुद सीनियर पत्रकार मधुकिश्वर ने ट्विटकर साफ कहा कि अगर सरकार एक्शन नहीं लेती है तो वो खुद पुलिस स्टेशन जाकर सागरिका घोष के खिलाफ केस दर्ज करेंगी। इसके बाद सागरिका ना सिर्फ अपना ट्विट डिलीट किया बल्कि अपने ट्विट के लिए माफी मांगी। सागिराक मशहूर टीवी जर्नलिस्ट राजदीप की पत्नी है।

झारखंड की इस घटना की देश भर में निंदा हुई है। और पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिया है। बाद में मधु पूर्णिमा किश्वर ने लिखा है कि जब तक सागरिका ने इस ट्वीट को डिलीट किया नफरत भरा ये मैसेज कई लोगों के पास पहुंच चुका था। मधु पूर्णिमा ने सागरिका के एक दूसरे ट्वीट को कोट करते हुए लिखा है कि उसी दिन हिन्दुओं को भी मारा गया लेकिन सागरिका को सिर्फ मुस्लिम पीड़ित ही नजर आते हैं।

झारखंड: नक्सलियों ने इंडियन ऑयल के 6 वाहनों में लगाई आग

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App