ताज़ा खबर
 

VIDEO: ..तो क्या यूपी में एंबुलेंस से ढोई जा रही हैं सवारियां? सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो

इस वीडियो को 3 दिन में लगभग तीन लाख लोग देख चुके हैं। 12 हजार से ज्यादा लोगों ने इस वीडियो को शेयर भी किया है।

तस्वीर का इस्तेमाल वायरल हो रहे वीडियो से किया गया है।

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो शेयर करने वाले लिख रहे हैं कि योगी जी की 102 और 108 एंबुलेंस सेवा से सवारियां ढोई जा रही हैं। सुनीता प्रजापति नाम की फेसबुक यूजर ने 5 मई को एक वीडियो शेयर किया जिसमें बीच सड़क पर एंबुलेंस से कुछ लोगों को उतारा जा रहा है। सुनीता ने इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा कि यूपी के बस्ती में एंबुलेंस से सवारिया ढोई जा रही हैं। इस वीडियो को 3 दिन में लगभग तीन लाख लोग देख चुके हैं। 12 हजार से ज्यादा लोगों ने इस वीडियो को शेयर भी किया है। हालांकि इस वीडियो की जनसत्ता किसी भी तरह से पुष्टि नहीं करता है।

वीडियो में अंधेरी रात में सड़क पर खड़ी एंबुलेंस की तरह एक वैन नजर आ रही है। गाड़ी इस तरह खड़ी है जिसे देख पूरे विश्वास से नहीं कहा जा सकता है कि ये एंबुसेंस ही है हालांकि देखने में एंबुलेंस ही लग रही है। इस वैन से 4-5 लोग बैग लेकर उतरते नजर आरहे हैं। इन लोगों को देख कर लगता है कि ये लोग यात्री हैं और कहीं जा रहे हैं या कहीं सफर से लौट रहे हैं। इन लोगों के गाड़ी से उतरने के बाद एक ड्राइवर एंबुलेंस में बैठते दिखता है। जब ड्राइवर अपनी सीट पर बैठता है तब दिखाई देता है कि ये वैन नहीं एंबुलेंस है।

वीडियो देख बहुत से लोगों ने इस पोस्ट पर अपने कमेंट किये हैं। जहां कुछ लोग कह रहे हैं कि ये वीडियो एडिट करके जोड़ा गया है वहीं कुछ लोग प्रदेश सरकार को भला बुरा कह रहे हैं। अब ये वीडियो सही है या फर्जी इसका तो पता नहीं लेकिन गाड़ी से जब सवारियां उतर रही हैं तब वहां खड़ा एक शख्स ही बाद में ड्राइवर सीट पर बैठता है जिसे देखकर लगता है कि वीडियो फर्जी नहीं है।

इस वीडियो के वायरल होने के बाद भी अभी तक सरकार या स्वास्थ्य विभाग की तरफ से किसी तरह की सफाई या बयान नहीं आया है और ना तो अभी तक इस वीडियो की पुष्टि हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App