ताज़ा खबर
 

वायरल वीडियो: कुछ इस तरह से बच्चों से भीख मंगवा रही सलमा, भड़के लोग

वीडियो देख कुछ यूजर्स काफी भड़क गए हैं और इस तरह का काम करवाने वाले के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किये जाने की वकालत कर रहे हैं। वहीं इस पूरे वीडियो को कुछ यूजर्स साम्प्रदायिक रंग देते हुए तमाम फोटो और वीडियो भी कमेंट बॉक्स में पोस्ट कर रहे हैं।

वायरल हो रहे वीडियो का स्क्रीनशॉट।

सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो पर लोगों के बीच बहस भी हो रही है। इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा गया है कि ‘खुद देख लो भिखारी बने मुस्लिम बच्चों को कैसे भीख मांगने के लिए भेजा ताता है’। खास प्रेस नाम के फेसबुक पेज से इसे लगभग दो हफ्ते पहले पोस्ट किया गया है। दो हफ्तों के अंदर इस पोस्ट को 11 हजार से ज्यादा लोगों ने अपने वॉल पर शेयर किया है। लोग वीडियो बनाने वाले शख्स की खूब तारीफ कर रहे हैं। वीडियो देख कर पता नहीं चल पा रहा है कि ये वीडियो कहां का है और कब का है। हालांकि वीडियो में सुनाई देने वाली भाषा से अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये मामला शायद दिल्ली या उसके आसपास के कहीं का है।

लगभग 5 मिनट के इस वीडियो में दो छोटे बच्चे हैं जो भीख मांग रहे हैं। एक शख्स है जो इन बच्चों की पोल खोल रहा है और कुछ लोग हैं जो वहां भीड़ लगा कर खड़े हैं और वीडियो बना रहे हैं। जो दो बच्चे दिख रहे हैं उनमें एक व्हीलचेयर पर बेसुध मुद्रा में बैठा है और दूसरा ये कहते हुए लोगों से पैसे मांग रहा है कि इसकी तबीयत खराब है, इसके दिल में छेद है। इसका इलाज करवाना है। लेकिन वीडियो में दिखाया गया है कि ये सब पैसे मांगने की नौटंकी है। सफेद शर्ट में एक शख्स इन दोनों बच्चों की पोल खोलते हुए बता रहा है कि कैसे ये बच्चे नाटक करके दिन भर में 5 से 7 हजार रुपए तक कमा लेते हैं। ये पैसे ले जाकर अपने गैंग की लीडर किसी सलमा नाम की महिला को देते हैं।

वीडियो में जो शख्स इन बच्चों की पोल खोल रहा है वो लोगों से ये अपील भी कर रहा है कि आप लोग किसी भी इस तरह से भीख मांगने वाले बच्चों को बीख देने से पहले 100 बार सोच लें। इस शख्स का कहना है कि इन लोगों को खेलने-पढ़ने की उम्र में बीख मांगने को मजबूर किया जाता है और ऐसा ना करने पर इनके साथ मारपीट की जाती है।

वीडियो देख कुछ यूजर्स काफी भड़क गए हैं और इस तरह का काम करवाने वाले के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किये जाने की वकालत कर रहे हैं। वहीं इस पूरे वीडियो को कुछ यूजर्स साम्प्रदायिक रंग देते हुए तमाम फोटो और वीडियो भी कमेंट बॉक्स में पोस्ट कर रहे हैं। इनमें से ज्यादातर में मुस्लिम भिखारियों को दिखाया गया है। बता दें कि इस वीडियो के प्रमाणिकता की पुष्टि किसी भी हाल में जनसत्ता.कॉम नहीं करता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X