ताज़ा खबर
 

वायरल वीडियो: गांधी परिवार के बारे में बोले रामदेव- घर के किनारे की नाली को नहर बताया और नेहरू हो गए

वीडियो में बाबा रामदेव गांधी खानदान पर आरोप लगाते हुए कह रहे हैं कि ये लोग महात्मा गांधी के उत्तराधिकारी नहीं हैं बल्कि ये महात्मा गांधी के विचार और सिद्धांतों के हत्यारे हैं।

बाबा रामदेव ने पतंजलि आयुर्वेद की स्थापना की है लेकिन उनकी कंपनी में कोई हिस्सेदारी नहीं है। (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

इन दिनों सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर योग गुरु बाबा रामदेव का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में बाबा रामदेव गांधी खानदान पर आरोप लगाते हुए कह रहे हैं कि ये लोग महात्मा गांधी के उत्तराधिकारी नहीं हैं बल्कि ये महात्मा गांधी के विचार और सिद्धांतों के हत्यारे हैं। वीडियो में रामदेव कह रहे हैं कि गांधी खानदान को अपने नाम के पीछे ‘गांधी’ शब्द लिखने का कोई अधिकार नहीं है। रामदेव यहीं रुकते बल्कि गांधी खानदान की पीड़ियों पर भी सवाल उठाते हैं और इसकी तहकीकात करने की बात कह रहे हैं। इसमें रामदेव कहते हैं कि मोती लाल नेहरू थे वो मोती लाल ‘गांधी’ नहीं थे। रामदेव आगे कहते हैं कि इनके घर के सामने एक नाली बहा करती थी जिसे इन्होंने नहर कह दिया और खुद को नेहरू खानदान का बता दिया। ये गांधी खानदान के नहीं है। इन्होंने फिरोज गंधी से इंदिरा गांधी की शादी कर दी और खुद को बता दिया गांधी।

वीडियो में बाबा रामदेव आगे कहते हैं कि कांग्रेस मुझे महाठग कहती है। जबकि सच तो ये है जो ठगों को ठिकाने लगाए उसे महाठग कहते हैं। कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाते हुए रामदेव कहते हैं कि ये मोदी को मौत का सौदागर कहते हैं जबकि सच तो ये है मोदी ने कभी गुजरात को टूटने नहीं दिया। वहां कभी दंगे नहीं होने दिए। जबकि 1947 में देश का विभाजन जिस नेहरू ने किया उस दौरान दंगों में सरकारी आंकड़ों के अनुसार 10 से 30 लाख लोगों की मौत हुई। देश को तोड़ने और 30 लाख लोगों को जिसने मारा वो नेहरू हैं ना कि नरेंद्र मोदी। बता दें कि 9 मई, 2017 अपलोड किए गए इस वीडियो को अबतक एक लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं जबकि सैकडों लोगों ने इसपर कमेंट किए हैं। वहीं काफी लोगों ने इस वीडियो को अपनी फेसबुक वॉल पर शेयर किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App