ताज़ा खबर
 

मंजू वर्मा के इस्तीफे पर मिला मंत्री बनने का मौका, तो कुर्सी को प्रणाम कर दूसरे वर्मा ने लिया चार्ज

रेप कांड पर मंजू वर्मा की काफी आलोचना और नीतीश सरकार की जमकर किरकिरी हो रही थी, जिसके बाद जिम्मेदारी कृष्णनंदन को सौंपी गई।

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा को समाज कल्याण मंत्री पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। (फोटोः ANI)

बिहार में शेल्टर होम कांड को लेकर मंजू वर्मा के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह पद शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा को सौंपा। कृष्णनंदन को अतिरिक्त प्रभार देते हुए सूबे का नया समाज कल्याण मंत्री बनाया गया है। गुरुवार (नौ अगस्त) को प्रभार संभालने से पहले कृष्णनंदन ने कुर्सी को प्रणाम किया, जिसके बाद वह उस पर बैठे। रेप कांड पर मंजू वर्मा की काफी आलोचना और नीतीश सरकार की जमकर किरकिरी हो रही थी, जिसके बाद जिम्मेदारी कृष्णनंदन को सौंपी गई।

आपको बता दें कि मुजफ्फपुर में शेल्टर होम कांड में पति चंद्रेश्वर वर्मा के साथ आरोपी ब्रजेश ठाकुर के संबंधों की बात जगजाहिर होने के बाद मंजू वर्मा को कुर्सी से हाथ धोना पड़ा था। आरोपी ब्रजेश से उनके पति की जनवरी से लगभग 17 बार बात हुई थी। मंजू के पति को लेकर लगातार उन पर सवालिया निशान लग रहे थे। कुछ समय पहले यह भी पता लगा कि कुछ महीनों के दौरान मंजू के पति नौ बार मुजफ्फरपुर गए थे। बिहार के शेल्टर होम रेप कांड में 34 लड़कियों के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है। ब्रजेश ठाकुर ही शेल्टर होम का संचालक है।

देखें नए मंत्री ने कुर्सी पर बैठने से पहले आखिर क्या किया था

फिलहाल केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) इस मामले की जांच कर रही है। मामले में ब्रजेश समेत 10 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं।  सीएम नीतीश ने इससे पहले मंजू के इस्तीफे पर कहा था मंत्री ने उसने मुलाकात कर सफाई दी थी। मंजू ने बताया था, “मेरे खिलाफ विपक्ष ने साजिश रची। मीडिया ने हंगामा किया। मुझे निशाना बनाया गया, लिहाजा मैंने इस्तीफा दिया।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App