ताज़ा खबर
 

टीवी डिबेट: कांग्रेसी आचार्य कहे जाने पर भड़के पैनलिस्ट ने बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा को कहा लफंगा और दो कौड़ी का इंसान

अरनब ने कई बार संबित और आचार्य से शांत हो जाने की गुजारिश की, लेकिन दोनों के बीच तीखी बहस जारी रही।

Author नई दिल्ली | December 2, 2017 15:20 pm
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा, पत्रकार अरनब गोस्वामी और कलकी फाउंडेशन और पिताधिशवर के संस्थापक आचार्य प्रमोद कृष्णम।

यूपी निकाय चुनावों के नतीजे आने के बाद कांग्रेस पार्टी बुरी तरह घिर गई है। गुजरात चुनावों में उसे अच्छे नतीजों की उम्मीद है, लेकिन यूपी निकाय चुनावों में मेयर सीट पर उसका एक भी उम्मीदवार नहीं जीत पाया। इसी मुद्दे को लेकर अरनब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक टीवी पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा और कलकी फाउंडेशन और पीठाधीश्वर के संस्थापक आचार्य प्रमोद कृष्णम के बीच बहस हो गई। डिबेट के दौरान संबित पात्रा ने उन्हें कांग्रेस के आचार्य कह दिया। यह आचार्य को पसंद नहीं आया। हालांकि संबित यह कहते दिखे कि कांग्रेस आचार्य कोई गाली नहीं होती। इसके बाद प्रमोदकृष्णम ने कहा कि ये सत्ता के नशे में चूर हैं, सच सुनना नहीं चाहते। उन्होंने कहा, मैं अगर कहूं संबित पात्रा बहुत बड़े चोर, लफंगे या झूठे हैं तो कैसा लगेगा। उन्होंने यह भी कहा कि आप कॉरपोरेशन का चुनाव लड़े थे संबित पात्रा और बुरी तरह हार गए थे, अब चमचागिरी करके बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता बन गए। आप जैसे प्रवक्ता अगर बीजेपी में रहेंगे, तो पार्टी का बेड़ा गर्क हो जाएगा।

इसके जवाब में संबित ने उन्हें ढोंगाचार्य बताया। दोनों के बीच भाषा के गिरते स्तर को देखकर अरनब गोस्वामी का पारा भी चढ़ गया और उन्होंने संबित को एेसा न करने को कहा। अरनब ने यह भी कहा कि मैं शो में लफंगा या अन्य शब्द बर्दाशत नहीं करूंगा। लेकिन दोनों के बीच बहस फिर भी जारी रही। प्रमोदकृष्णन ने संबित पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि आप लोगों ने हिंदुओं को ठगा है, आप राम मंदिर कब बनाएंगे, गुजरात की जनता को बताइए। इस पर संबित पात्रा ने कहा कि आपने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव अड़ा और अब पूछ रहे हैं कि मंदिर क्यों नहीं बनाया। इस दौरान अरनब ने कई बार संबित और आचार्य से शांत हो जाने की गुजारिश की, लेकिन दोनों के बीच तीखी बहस जारी रही। वीडियो में आप दोनों के बीच पूरी डिबेट देख सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App