scorecardresearch

भगवान कसम हम किसी को नहीं मारे हैं- पुलिस पिटाई के बाद रोते हुए छात्र का वीडियो वायरल, सोशल मीडिया पर भड़के लोग

वायरल वीडियो में पुलिस की पकड़ में खड़ा एक युवक कह रहा है कि “भगवान कसम मैंने किसी को नहीं मारा”

RRB-NTPC Exam Result Controversy। RRB NTPC। RRB
RRB-NTPC Exam: रेल मंत्रालय ने रेलवे की दोनों परीक्षाओं पर रोक लगा दी है। (फोटो सोर्स- PTI)

NTPC-RRB के छात्रों का प्रदर्शन पटना से शुरू होकर उत्तर प्रदेश के प्रयागराज तक पहुंचा। यहां छात्रों ने रेलवे ट्रैक पर उतरकर प्रदर्शन किया तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर रेलवे ट्रैक को खाली कराया। इसके बाद पुलिस हंगामा कर रहे छात्रों को खोजने के नाम पर हॉस्टल में घुसकर पिटाई करते दिखाई दी। गलियों में दौड़ाकर छात्रों को पीटा गया। छात्रों के पिटाई के कई वीडियो इस वक्त सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

‘भगवान कसम मैंने किसी को नहीं मारा है’ ये शब्द उस युवक के हैं जिसे पुलिस पकड़ कर खड़ी है और वहां से गुजरने वाले पुलिस के जवान थप्पड़ बरसा रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये वीडियो प्रयागराज का है। जब प्रदर्शन और हंगामा कर रहे छात्रों को पुलिस पकड़ रही थी और डंडे बरसा रही थी। उसी दौरान ये युवक पुलिस की पकड़ में आया।

हाथजोड़ कर पुलिस के सामने गिड़गिड़ाते हुए युवक का वीडियो पत्रकार अभय कुमार सिंह ने ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा कि “भगवान कसम किसी को नहीं मारे हैं हम” इस युवा के आंसू परेशान करके रख देने वाले हैं। भविष्य-भविष्य बोलकर ऐसे सड़क पर गिड़गिड़ाने को मजबूर करने वालों से कोई क्या उम्मीद करे। शर्मनाक!! अब इस वीडियो को देखकर आम लोग भी आक्रोशित हैं।

दयाल सिंह भाटी ने लिखा कि चाहे सरकार कहीं की भी हो, बेरोजगार जब भी अपने हक की मांग उठाता हैं तो उसे ऐसे ही पीटा जाता है, हुक्मरानों के आदेशों पर। पवन मौर्य लिखते हैं कि पुलिस वाले जब बच्चों को इस तरह मारते हैं, तब “कानून” कहां चला जाता है ? जब बच्चे “रेलवे स्टेशन” या “पुलिस स्टेशन” में तोड़फोड़ करते हैं, तब कानून आ जाता है? इसे लोकतंत्र कहें या क्या कहें? पहले तो मूवी में दिखाते थे “अंधा कानून” अब तो सच में दिख रहा है “अंधा -बहरा कानून”। 

रामजी नाम के यूजर ने लिखा कि पिछले गणतंत्र दिवस पर भी उपद्रव किया गया था। तब पुलिस चुपचाप पिटती रही थी। अबकी बार रेलवे की बोगियां जला रहे थे तो पुलिस ने सही सबक सिखा दिया। अराजकता बर्दाश्त नहीं करनी चाहिए। अतुल दीक्षित ने वीडियो देखकर लिखा कि चाणक्य ने कहा था – देश का भविष्य नौजवानों के हाथ में होता है। आज देश में बेरोजगार नौजवान, रोजगार के लिए अपनी बात कहते हैं तो प्रशासन और सरकार के मंत्री को जानकारी ही नहीं होती, शर्म की बात है कि 3 साल की वैकेंसी निकली हुई और माननीय मंत्री जी को इस विषय में कुछ जानकारी ही नहीं कि क्या चल रहा है?

बता दें कि प्रयागराज में छात्रों ने रेलवे ट्रैक पर उतरकर प्रदर्शन किया था। छात्रों का प्रदर्शन रोकने, रेलवे ट्रैक को खाली कराने और हिंसा कर रहे छात्रों को भगाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया था। इस लाठीचार्ज में कई छात्रों को पुलिस, बेरहमी ने पीटते दिखाई दी। इसके बाद प्रयागराज एसएसपी ने छः पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

वहीं रेलवे ने हंगामे और बिहार में बंद को देखते हुए उत्तर प्रदेश के कई स्टेशनों को हाई अलर्ट पर रखा है। रेलवे स्टेशन और पटरियों की निगरानी बढ़ाने के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम कर दिए गए हैं। पुलिस महानिदेशक ने वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर में विशेष रूप से सतर्कता बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट