ताज़ा खबर
 

गुजरात: BJP सांसद की गुंडागर्दी, सवाल पूछने पर मीडिया टीम पर किया हमला

गुजरात के पंचमहाल से बीजेपी सांसद प्रभात सिंह कलोल अपनी पत्नी के बजाए बहू को टिकट दिए जाने से नाराज चल रहें है।

Author Updated: November 27, 2017 7:41 AM
बीजेपी सांसद प्रभात सिंह कलोल।

गुजरात विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के टिकट बंटवारे को लेकर आए दिन बीजेपी कार्यकर्ताओं ओर नेताओं के असंतुष्ट होने की खबरें सामने आ रही है। इसी बीच गुजरात की कलोल विधानसभा सीट के लिए अपनी पत्नी की जगह बहू को टिकट दिये जाने से नाखुश पंचमहाल से बीजेपी सांसद प्रभात सिंह ने चेतावनी दी कि अगर पार्टी ने मौजूदा उम्मीदवार की जगह उनकी पसंद के उम्मीदवार को टिकट नहीं दी तो वह पार्टी की जीत की गारंटी नहीं दे सकते। पत्नी के बजाए बहू को टिकट दिए जाने से नाराज बीजेपी सांसद प्रभात सिंह ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को खत लिखकर सुमन चौहान को बदलकर किसी स्थानीय उम्मीदवार को टिकट देने का अनुरोध भी किया है। इस बारे में जब एबीपी न्यूज की टीम ने बीजेपी सांसद प्रभात सिंह से सवाल किया तो वो आग-बबूला हो गए और अपनी गुंडागर्दी दिखाते हुए उन्होंने एबीपी न्यूज की टीम के साथ बदसलूकी की और उन पर हमला कर दिया। जिसका वीडियो एबीपी न्यूज के कैमरे में कैद हो गया।

एबीपी न्यूज के मुताबिक, प्रभात सिंह कलोल ‘मन की बात’ चाय के साथ कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। बता दें कि, गुजरात के पंचमहाल से बीजेपी सांसद प्रभात सिंह कलोल अपनी पत्नी के बजाए बहू को टिकट दिए जाने से नाराज चल रहें है। इस बारें में उन्होंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को खत भी लिखा है।

गौरतलब है कि, गुजरात विधानसभा की कुल 182 सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव कराए जाएंगे। पहले चरण का चुनाव 9 दिसंबर, जबकि दूसरे चरण का चुनाव 14 दिसंबर को होगा। बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव की मतगणना हिमाचल प्रदेश विधानसभा के लिए हुए चुनाव के साथ 18 दिसंबर को होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मुंबई हमले पर क्रिकेटर इरफान पठान के ट्वीट ने जीत लिया लोगों का दिल
2 बाबा रामदेव की 25 साल पुरानी फोटो वायरल, पहचान पाना बेहद मुश्किल
3 VIDEO: असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM की रैली में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे